पुलिस कर्मचारियों का वेतन ग्रेड पे बढाने सौपा ज्ञापन

विभाग की रीढ की हड्डी कहलाने वाले आरक्षकों को मिले 2400 का ग्रेड-पे
अनूपपुर। नगर, समाज व हर तबके को सुरक्षा प्रदान के साथ सेवा भाव से कार्य करने वाली पुलिस की तरफ एवं उनकी परिस्थितियों पर शायद ही किसी का ध्यान  जाता होगा, सुबह, दोपहर, रात्रि, धूप, बारिश, आंधी, तुफान, वायरस सहित न जाने कितनी समस्याओं को अपने अंदर पिघलाकर देश भक्ति जनसेवा की शपथ ले मैदान में डटा रहता है, उसके बाद भी अपने परिवार के साथ खुशहाल रूप न जी पाने वाले ये पुलिसकर्मचारी न तो प्रदर्शन कर सकते है और न ही आंदोलन, जिसको दृष्टिगत रखते हुए मध्यप्रदेश पुलिस कर्मचारियों के अधिवक्ता योगेश्वर शर्मा अनूपपुर पहुंच कर कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक को मुख्यमंत्री, गृहमंत्री व पुलिस महानिदेश के नाम ज्ञापन सौप कर पुलिस कर्मचारियों की समस्याओं से अवगत करया।
नही है आधारभूत सुविधाएं
मध्यप्रदेश पुलिस आरक्षक का पद पुलिस विभाग की नींव है, उसकी रीढ की हड्डी होती है, जिसका कानून व्यवस्था बनाये रखने में अहम योगदान होता है। पुलिस आरक्षक सन् 1861 से 24 घंटे एग्रीमेंट पर 12 से 18 घंटे लगातार काम कर रही है, वेतन और भत्ते बढाने के संबंध में लंबे समय से मांग चल रही है। आधार भूत सुविधाएं पर्याप्त नही है, 90 प्रतिशत से अधिक पुलिस कर्मचारी बैंक से लोल लेकर अपनी आवश्यकताओं को पूरा कर रहे है, पुलिसकर्मी व्यवसाय नही कर सकते है न ही कोई धरना प्रदर्शन न हडताल कर सकते है, आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण बहुत से पुलिस कर्मचारी आत्महत्या कर रहे है।
1900 से 2400 बढाने की मांग
लगातार हाई ड्युटी करने के बाद वर्तमान वेतन ग्रेड-पे 1900 है, जिस कारण पुलिस कर्मचारियों में मानसिक असंतोष व्याप्त है तथा अवसाद ग्रस्त है। आरक्षकों के वेतन ग्रेड पे 1900 से बढाकर 2400 करने के लिए मध्यप्रदेश पुलिस कर्मचारियों के अधिवक्ता योगेश्वर शर्मा के द्वारा गृहमंत्री, गृह विभाग मध्यप्रदेश शासन सहित मुख्यमंत्री व पुलिस महानिदेश मुख्यालय भोपाल के नाम कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौपा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *