बिजली कटौती के विरोध में विधायक को सौपा ज्ञापन , कार्यवाही ना होने पर दी आंदोलन की चेतावनी

नौरोजाबाद/शहडोल। उमरिया जिले के नगर परिषद नौरोजाबाद में इन दिनों विद्युत कटौती लगातार की जा रही है जिसको लेकर लोगों में काफी रोष है इसके चलते नगर परिषद् के अंतर्गत वार्ड नंबर 6 में करीब दो हफ्ते से 16 से 18 घंटे की विद्युत कटौती को लेकर लोगों का जीना मुहाल हो गया है जहां इसकी जानकारी लेने पर बिजली विभाग के आला अधिकारियों का मनमानी रवैया अब सहने योग्य नहीं रहा। बिजली विभाग के कर्मचारियों का कहना है की वार्ड 06 को ग्रामीण फीडर से जोड़ दिया गया है इस वजह से यह कटौती हो रही है, अब प्रश्न यह उठता है की किसके आदेश से नगरीय क्षेत्र को ग्रामीण फीडर से कैसे जोड़ा गया जबकि शासन का अरबो रूपये ग्रामीण फीडर बनाने के नाम पर खर्च हुआ पर जमीनी स्तर का यदि काम हुआ होता तो यह हाल नहीं होता ।
सांठगांठ से चल रहा खेल
ठेकेदार ने अपनी बचत को देखते हुए सारा काम किया और जो चंगेरा लाईन छादा ग्रामीण फीडर से जाना था जिसके खम्बे छादाकला गांव से छादाकला गेस्ट हाउस के पास तक खड़े है, उसका उपयोग ना कर ठेकेदार के द्वारा पुरानी लाइन को उपयोग में लिया, आखिर किसकी सहमति से ठेकेदार ने यह काम किया जिसकी वजह से नगर के लोगो को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, इसकी भी जाचं होनी चाहिए। बिजली विभाग के द्वारा लोगो को जानबूझ कर तीन फेश में से एक फेश में बिजली सप्लाई की जा रही है, जिसकी वजह से दो फेश में लो वोल्टेज रहता है जिसकी वजह से लोगो का घरेलू बिजली के उपकरण  लगातार खऱाब हो रहे है, इसका जिम्मेदार कौन, इन उपकरणों के खऱाब होने पर इसकी भरपाई कौन करेगा, आज इन्ही बातो को लेकर वार्ड नंबर 6 के लोग बांधवगढ़ विधायक शिवनारायण सिंह को एक ज्ञापन सौपा गया। लोगो का कहना हैं कि कार्यवाही नहीं होती तो हम लोग आगे बड़ी कार्यवाही को बाध्य हो जायेगे।
उग्र आंदोलन का दी चेतावनी
बिजली विभाग के अधिकारी को ज्ञापन देते हुए जिसकी प्रतिलिपि आदिम जाति कल्याण मंत्री मीना सिंह और मुख्य अभियंता उमरिया, कनिष्ठ अभियंता पाली, जिला कलेक्टर उमरिया,ऊर्जा मंत्री मध्य प्रदेश शासन भोपाल, को प्रतिलिपि भेजकर 7 दिन के अंदर समस्या का निराकरण न होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी गई है, जिस पर वार्ड वासियों के द्वारा के बताया गया कि अगर हमारी मांग 7 दिन के अंदर नहीं पूरी होती है तो हम उग्र आंदोलन जैसे धरना-प्रदर्शन, चक्का जाम, आमरण अनशन के लिए बाध्य होंगे जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी।
ये रहे मौजूद
ज्ञापन सौंपते समय रमेश यादव, धनशाह यादव, विलोक नाथ दहिया, राहुल यादव, राकेश दहिया, राजकुमार, महेंद्र साहू, राजेंद्र साहू, संतोष कुमार वर्मा, रमेश केवट, गोकुल बर्मन, अनिल कुमार साहू, अशोक कुमार साहू, सुरेन्द्र साहू, अर्जुन साहू, रवि कुमार दहिया, पूरन लाल रजक, राजकुमार रजक,  उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *