मंत्री डॉ. मिश्रा और राजपूत श्महाकवि विद्यापति स्मृति प्रसंगश् में हुए शामिल मेधावी छात्र और समाज सेवियों को किया सम्मानित

संतोष कुमार केवट

अनूपपुर। कल दिनॉक 17 फरवरी को गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा और राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने तुलसी मानस भवन में आयोजित श्महाकवि विद्यापति स्मृति प्रसंगश् कार्यक्रम में मेधावी छात्र और समाज सेवियों को सम्मानित किया। मंत्रीद्वय ने माँ सरस्वती को पुष्प अर्पित कर पूजा-अर्चना की और मिथिला भाषा में लिखी पत्रिका ष्सुगबीष् का विमोचन किया। कार्यक्रम में मेधावी छात्रों और कोरोना काल में मानव सेवा करने वाले हमीदिया अस्पताल के डॉ. लोकेंद्र दवे, एम्स हॉस्पिटल के डॉ. नीरेंद्र राय, बंसल हॉस्पिटल के डॉ. प्रवीण झा, समाजसेवी श्रीमती नीतू चौधरी, पत्रकार  राजेश गाबा, राजेश सक्सेना, सुधीर दंडोतिया और कार्यकर्ता डॉ. अनिल झा, उमाकांत राय और अखिलेश सिंह को स्मृति-चिन्ह और फल से सम्मानित किया गया। मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि यह भारत की संस्कृति है, जहाँ मातृशक्ति की पूजा होती है। माँ महात्मा और परमात्मा होती है। ईश्वर हर जगह नहीं पहुँच सकते, इसलिए उन्होंने माँ बनाई है। आज माँ की आराधना का दिन है। मुझे माँ की आराधना में शामिल होने का अवसर मिला, यह मेरा सौभाग्य है। मंत्री राजपूत ने कहा कि राजा जनक की नगरी मिथिला को मैं प्रणाम करता हूँ। साक्षात माँ सरस्वती इस समाज में विराजमान है। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में आकर मैं अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहा हूँ। कार्यक्रम में सम्मानित हुईं सभी प्रतिभाओं को उन्होंने शुभकामनाएँ दीं। उल्लेखनीय है कि संस्कृति विभाग और भोजपुरी साहित्य अकादमी मध्यप्रदेश संस्कृति परिषद द्वारा महाकवि विद्यापति की स्मृति में प्रतिवर्ष श्महाकवि विद्यापति स्मृति प्रसंगश् का आयोजन किया जाता है। महाकवि विद्यापति मैथिली भाषा के सर्वोपरि कवि के रूप में जाने जाते हैं। कार्यक्रम के दौरान महाकवि विद्यापति की शिवभक्ति का चित्रण करते हुए नृत्य नाटिका ष्उगना रे मोर कतय गेलाष् प्रदर्शन किया गया। कलाकार पंकज सिनेही और साथियों द्वारा महाकवि विद्यापति की रचनाओं का गायन और लोक नृत्य नाटिका श्जट जट्टीनश् की प्रस्तुति दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed