अमेहटा में अमानवीय कृत्य पीड़िता निर्भया के परिजनों से मिलने पहुंचे विधायक संजय सत्येन्द्र पाठक परिजनों को दी सांत्वना, आर्थिक मदद के साथ ही बच्ची के सम्पूर्ण इलाज की ली जिम्मेदारी एसीसी अमेहटा प्लांट के मैनेजमेंट को बाहरी लोगों के पुलिस वेरिफिकेशन के बाद ही रखने का दिया अल्टीमेटन, जिससे मजदूरों के भेस में आनेवाले बाहरी अपराधियों पर लगे अंकुश

अमेहटा में अमानवीय कृत्य पीड़िता निर्भया के परिजनों से मिलने पहुंचे विधायक संजय सत्येन्द्र पाठक

परिजनों को दी सांत्वना, आर्थिक मदद के साथ ही बच्ची के सम्पूर्ण इलाज की ली जिम्मेदारी

एसीसी अमेहटा प्लांट के मैनेजमेंट को बाहरी लोगों के पुलिस वेरिफिकेशन के बाद ही रखने का दिया अल्टीमेटन, जिससे मजदूरों के भेस में आनेवाले बाहरी अपराधियों पर लगे अंकुश

कटनी। विजयराघवगढ़ के ग्राम आमेहटा में एक बाहरी युवक द्वारा रात में अमानवीय कृत्य पीड़ित निर्भया के परिजनों से आज मिलने विजयराघवगढ़ विधायक संजय सत्येन्द्र पाठक पहुंचे और परिजनों को सांत्वना देने के साथ ही आरोपी को सजा फांसी की सजा दिलाने तक चैन से न बैठने की बात कही उन्होंने बताया कि अपराधिक कृत्य करने वाले अपराधी को पकड़ लिया गया है एवं जिस अवैध ढाबा में वो काम करता था उसे भी प्रशासन ने ढहा दिया है। उन्होंने परिवार को आर्थिक मदद के साथ ही बच्ची के सम्पूर्ण उपचार की जिम्मेदारी ली और पीड़ित परिवार की हर संभव मदद करने का आश्वासन दिलाया। श्री पाठक ने कहा राजनीति से बढ़कर मेरे लिए क्षेत्र की जनता का दुख दर्द है, खास तौर पर बच्चियों से मुझे विशेष स्नेह है, हर बच्ची मुझे अपनी बेटी जैसी लगती है और अगर बेटियों के साथ कुछ गलत होता है तो मुझे असहनीय वेदना होती है। इस दौरान पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए हर संभव प्रयास करने की बात विधायक द्वारा कही गई। इस अवसर पर ग्राम अमेहटा के साथ साथ आसपास से आए ग्रामीणों ने बिजली, पानी,आवास, वृद्धा पेंशन, राशन कार्ड आदि की समस्याएं भी विधायक श्री पाठक के सामने रखीं जिस पर गांव के सरपंच, सचिव को बुलाकर तत्काल निराकरण करने के लिए विधायक द्वारा निर्देश दिए गए एवं मौके पर मौजूद तहसीलदार को इस पर नजर रखते हुए शीघ्र करवाही कराने को कहा। आरोपी को पकड़ने में सक्रियता दिखाने पर पुलिस विभाग के समस्त अधिकारियों कर्मचारियों का भी आभार विधायक श्री पाठक ने जताया। इसके पश्चात उन्होंने अमेहटा के एसीसी प्लांट के मैनेजमेंट से प्लांट के अधिकारियों से मीटिंग लेकर काम करने वाले को बाहरी लोगों के पुलिस वेरिफिकेशन के बाद ही रखने के लिए बोला उन्होंने कहा कि इस दिशा में उन्होंने पूर्व ही चेतावनी दी थी जिसपर आप ने कोई ध्यान नही दिया, विगत समय से मेरे द्वारा अमेहटा प्लांट में बाहर से आने वाले कामगारों के पुलिस सत्यापन को लेकर प्लांट प्रबंधन से आग्रह किया जा रहा है लेकिन प्लांट द्वारा नियमों को ताक में रखकर स्थानीय कामगारों की अवहेलना करते हुए आपराधिक प्रवृत्ति के बाहरी लोगों से काम लिया जा रहा। आज विभिन्न संगीन अपराधों में संलिप्त क्रूर अमानवीय प्रवृत्ति के बाहरी अपराधी द्वारा साढ़े तीन साल की मासूम के साथ हृदयविदारक दुष्कर्म को अंजाम दिया गया।आपके यहां कार्य करने वाले बाहरी मजदूरों में कौन अपराधी प्रवृत्ति का है और कब अपराध कर दे ,हो सकता है वह पूर्व का अपराधी हो और यहां इस बात का पता पुलिस विरीफिकेश से ही हो सकता है।आप लोग सभी बाहरी मजदूरों का पुलिस विरीफिकेश कराइए तब काम कवाईए जिससे मजदूरों के भेस में आनेवाले बाहरी अपराधियों पर अंकुश लग सके। इस बात अवसर पर कैमोर नगर परिषद अध्यक्ष मनीषा अजय शर्मा, उपाध्यक्ष संतोष केवट, जनपद अध्यक्ष सुधा कोल, उपाध्यक्ष उदयराज सिंह चौहान, विजयराघवगढ़ मंडल अध्यक्ष मनीष देव मिश्रा, कांटी मंडल अध्यक्ष जयवंत सिंह चौहान, कैमोर मंडल अध्यक्ष अंकुर ग्रोवर, महिला मोर्चा कैमोर मंडल अध्यक्ष सुनीता दाहिया, शांति यादव,शालिनी पांडेय, पड़खुरी सलैया सरपंच बाबू ग्रोवर आदि जनप्रतिनिधियों के अलावा तहसीलदार विजय द्विवेदी, नायब तहसीलदार रविंद्र द्विवेदी, कैमोर थाना प्रभारी सुदेश कुमार, विजयराघवगढ़ थाना प्रभारी विजय सिंह बघेल व ग्रामीणों की उपस्थिति थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed