नगर के अंदर खेलों के आयोजन के लिए एक अच्छे खेल मैदान की जरूरत : असलम

धनपुरी। पूरे जिले में धनपुरी नगर की पहचान सबसे अलग है क्योंकि कोयला खदानों के इर्द-गिर्द बसे होने के कारण काले हीरे की नगरी के नाम से इस नगर की पहचान है और विकास कार्यों को लेकर देखा जाए तो काफी कुछ बदला हुआ भी नजर आता है लेकिन कुछ मांगे ऐसे भी हैं जोकि सालों से अधूरी है और पूरी होने की आस हर कोई देख रहा है।
नगर की युवा समाजसेवी असलम मामा एवं रानू खंडेलवाल ने कहा कि वर्तमान में धनपुरी नगर के अंदर खेल मैदान की आवश्यकता सबसे अधिक महसूस की जा रही है क्योंकि खेल मैदान ना होने के कारण खेल प्रतिभाओं को निखरने का जो अवसर मिलना चाहिए वह नहीं मिल पा रहा वैसे तो खेल के मैदान कई हैं लेकिन वहां पर सुविधाओं की कमी है ऐसे में एक अच्छे खेल मैदान का निर्माण होने से युवाओं को न सिर्फ खेलने में दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा और इससे नगर में अच्छी खेल प्रतिभाओं को भी तलाशा जा सकेगा खेल मैदान के लिए एक बड़े जमीन की आवश्यकता है जो कि बंद ही खदानों के आसपास देखी जा सकती है अगर यहां पर पहल कर अच्छे खेल मैदान का निर्माण कराया जाए तो यह नगर के लिए भी एक अच्छा अवसर होगा क्योंकि यहां पर खेल प्रतिभाओं की कमी नहीं है बस उन प्रतिभाओं को अच्छे मौके देने की आवश्यकता है जोकि एक अच्छे खेल मैदान से ही पूरी हो सकती है धनपुरी नगर के अंदर वैसे तो कई सालों से खेल मैदान की मांग की जा रही है कुछ समय पहले इसे लेकर प्रयास भी देखा गया था लेकिन यह प्रयास पूरा नहीं हुआ।
उन्होंने कहा कि धनपुरी नगर में अगर अच्छे खेल मैदान का निर्माण करा दिया जाए तो युवाओं के लिए एक सराहनीय कदम होगा क्योंकि खेल मैदान ना होने के कारण खिलाडिय़ों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है जनहित को देखते हुए नगर के अंदर अच्छे खेल मैदान निर्माण की जरूरत है जिस और पहल करने की आवश्यकता है और अगर खेल का मैदान बनता है तो खिलाडिय़ों में सबसे अधिक खुशी देखने को मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *