नवनिर्मित शासकीय महाविद्यालय भवन बिजुरी जनता को समर्पित

अनूपपुर से अजय नामदेव 

अनूपपुर / उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव एवं खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने आज बिजुरी में 650 लाख रुपये की लागत से नवनिर्मित शासकीय महाविद्यालय भवन जनता को समर्पित किया। श्री यादव कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे। जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता श्री सिंह ने की।

इस मौके पर उच्च शिक्षा मंत्री श्री यादव ने कहा कि महाविद्यालय में शिक्षा की समुचित व्यवस्था के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। महाविद्यालय में विद्या अध्ययन के समुचित इंतजाम किए जाएंगे। श्री यादव ने कहा कि महाविद्यालय रूपी शिक्षा के मंदिर मानवता के कल्याण के लिए बनाए गए हैं। इनमें विद्यार्थियों को बेहतरीन शिक्षा देने के लिए राज्य सरकार कृत संकल्प है। आपने आश्वस्त किया कि विद्यार्थियों को रोजगार मूलक शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए महाविद्यालयों में रोजगारमूलक कोर्स प्रारंभ किए जाएंगे। आपने कहा कि जिले के वेंकटनगर महाविद्यालय के लिए भवन निर्माण हेतु राशि स्वीकृत कर एजेंसी तय कर ली गई है और इसका निर्माण कार्य शीघ्र प्रारंभ किया जाएगा। श्री यादव ने जिले के बिजुरी सहित अन्य महाविद्यालयों में स्नात्कोत्तर कक्षाओं के विषयों एवं उनके लिए जरूरी स्टाॅफ की स्वीकृति दिलाने हेतु प्रयास करने का आश्वासन दिया। आपने कहा कि महाविद्यालय की परीक्षा के लिए अब परीक्षा केन्द्र बिजुरी को ही बनाया जाएगा।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि महाविद्यालय को सर्वसुविधायुक्त बनाने और शिक्षा के स्तर को बढ़ाने के लिए शैक्षणिक संस्थाओं में मूलभूत संसाधन जुटाना जरूरी है। विषयवार शिक्षा मुहैया कराने के लिए विषय से संबंधित शिक्षकों की नियुक्ति किया जाना आवश्यक है, ताकि विद्यार्थियों को विषय के अनुरूप शिक्षा प्राप्त हो सके। आपने बताया कि बिजुरी में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का उन्नयन कर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बनाया जाएगा। इसके लिए स्वास्थ्य मंत्री से चर्चा की जा चुकी है। कार्यक्रम में विधायक कोतमा सुनील सराफ, पूर्व विधायक कोतमा दिलीप जायसवाल, जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक के पूर्व संचालक  बृजेश गौतम समेत विभिन्न जनप्रतिनिधि एवं नागरिकगण उपस्थित थे। उच्च शिक्षा मंत्री का बिजुरी जाते समय ग्राम फुनगा, बदरा एवं कोतमा में आत्मीय स्वागत किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *