अभाविप का जिला संयोजक पहुंचा सलाखों के पीछे

दर्ज हैं कई मामले, चार महीने से चल रहा था फरार
अनूपपुर। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का जिला संयोजक नीतिश सिंह शनिवार को भालूमाडा पुलिस के गिरफ्त में आ गया। क्षेत्र में घटना कारित कर किसी अपराधी की तरह चार महीने से फरार चल रहा था, हलांकि नेता गिरी की धौंस के कारण ऑनरिकार्ड फरार था लेकिन आम तौर पर नीतिश को क्षेत्र की गलियों में आसानी से देखा जा सकता था। शनिवार को भालूमाडा पुलिस ने गिरफ्तार कर थाने लाई और रविवार को न्यायालय में पेश किया जहां से न्यायाधीश ने उसे जेल भेज दिया।
यह था मामला
घटना को अंजाम देकर महीनों तक फरार रहने के बाद शनिवार की रात पुलिस द्वारा छात्र संघ के नेता नीतीश सिंह को भालूमाडा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार नितीश सिंह के ऊपर 2 प्रकरणों में अपराध कायम है जिसमें धारा 341, 294, 323, 324, 325, 34आईपीसी, 3(1द,ध)-3/2/5 कायम था। जिसमें फरियादी रवि भारती ने मारपीट की शिकायत दर्ज करवाई थी। इस अपराध में चार मुजरिम बनाए गए थे जिनमें दो की गिरफ्तारी हो गई है। वही दूसरा मामला केतकी बाई द्वारा शिकायत दर्ज कराई गई थी जिस पर धारा 452, 294, 323, 306, 34 आईपीसी, 3/1द ध /3/2/5 के तहत थाने में मामला पंजीबद्ध किया गया था, जिसमें 8 मुलजिम बनाए गए थे, जिनमें से दो की गिरफ्तारी की गई है, उक्त मामले में भी नीतिश सिंह सनलिप्त थे, दोनों मामले को लेकर वह अगस्त से लगातार फरार चल रहा था।
किया था धरना प्रदर्शन
सूत्र द्वारा बताया जाता है कि विगत दिनों भालूमाडा थाना अंतर्गत एक मामले को लेकर छात्र संघ और नीतिश सिंह द्वारा धरना प्रदर्शन किया गया था जिसके बाद पुलिस द्वारा यह धरपकड़ की कार्यवाही की गई है। वही अगर देखा जाए तो अब तक नीतिश पुलिस के संरक्षण में ही फरार चल रहे थे और वही भालूमाडा, जमुना अंतर्गत सदैव विचरण करते नजर आते थे, अब जब नीतिश द्वारा पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया गया तो उसके बाद कार्यवाही की गई।
अन्य आरोपी फरार
सोचने की बात तो यह है कि दो अलग-अलग मामले में नीतिश के खिलाफ मामला पंजीबद्ध किया गया था और साथ में आधा दर्जन से अधिक आरोपियों को उक्त मामले में मुजरिम बनाया गया था, लेकिन 4 महीना बीत जाने के बाद भी अब तक सिर्फ दो लोगों की गिरफ्तारी की गई है। बाकी अब भी पुलिस के संरक्षण में फरार चल रहे हैं, हालांकि सूचना मिली है कि सभी फरार आरोपी भालूमाडा क्षेत्र के हैं और सदैव कभी बाजार तो कभी थाना परिसर में घूमते नजर आते हैं। फिलहाल नीतिश पर कार्यवाही करते हुये पुलिस ने जेल तक पहुंचा दिया, इस कार्यवाही में थाना प्रभारी आरएन आर्मो, एसआई आर एन तिवारी के साथ समस्त स्टाफ का योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *