बहाने नहीं काम चाहिये, लचर कार्यप्रणाली में लायें सुधार – कलेक्टर श्री मिश्रा

बहाने नहीं काम चाहिये, लचर कार्यप्रणाली में लायें सुधार – कलेक्टर श्री मिश्रा

कटनी – मीटिंग के पहले प्रकरण रिजॉल्व करके आया करें। यदि गंभीर मामला है, तो क्या हम शिकायत होने का इंतजार करेंगे। अपनी कार्यप्रणाली में बदलाव लायें और स्वतः संज्ञान में लेकर प्रकरणों का निराकरण करें। तल्ख लहजे में यह स्पष्ट निर्देश कलेक्टर प्रियंक मिश्रा ने सोमवार को टाईम लिमिट की बैठक में दिये। इस दौरान उन्होने विभिन्न विभागों की योजनाओं, गतिविधियों व कार्यों का विस्तार से रिव्यू भी किया। समय सीमा की बैठक का आयोजन जिला पंचायत सभागार में हुआ। टीएल मीटिंग में सेन्ट्रल पीजीआर पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों के निराकरण में उदासीनता बरतने पर संबंधित अधिकारियों को कलेक्टर श्री मिश्रा ने जमकर फटकारा। उन्होने सीधे निर्देश देते हुये कहा कि आईडिया नहीं था, जानकारी नही थी, देख नहीं पाये, यह सब बहाने नहीं चलेंगे। अपनी लचर कार्यप्रणाली में सुधार करते हुये तत्परता से अब काम करें। प्रकरणों का क्वालिटी डिस्पोजल करें, शिकायतों के सभी बिन्दुओं का तथ्यपूर्ण निराकरण करें। एैसा नहीं कि किसी ने पुटअप किया और हमने कर दिया, यह नहीं चलेगा।सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों के निराकरण में कोताही बरतने वाले बैंकर्स को अप्रसन्नता पत्र जारी करने के आदेश बैठक में कलेक्टर ने दिये। पीजीआर के प्रकरणों में भी कम प्रोग्रेस वालों को एससीएन जारी करने के निर्देश भी श्री मिश्रा ने दिये।टाईम लिमिट की बैठक में एमपीईबी के अधिकारियों को प्रत्येक जनसुनवाई में मंगवार के दिन कलेक्ट्रेट में शिकायत निवारण शिविर लगाने के आदेश भी कलेक्टर श्री मिश्रा ने दिये। उन्होने कहा कि जनसुनवाई में भी विभागीय वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहें।खाद्य सुरक्षा अधिकारी को मिलावट के खिलाफ बड़ी कार्यवाही करने के लिये भी कलेक्टर ने निर्देशित किया। उन्होने राजस्व अधिकारियों को भू-माफियाओं के खिलाफ सतत् कार्यवाही करने कके आदेश दिये। नगर निगम आयुक्त को प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के कार्य में तेजी लाने के लिये भी कलेक्टर ने निर्देशित किया। जिले के सभी एसडीएम को एससीएसटी एक्ट के प्रकरणों का रिव्यू करने अपने स्तर पर समीक्षा बैठक लेने के निर्देश श्री मिश्रा ने दिये। टॉप 20  यूरिया बायर्स की रिपोर्ट भी शीघ्र भेजने के लिये निर्देशित किया।खाद्यान्न की कालाबाजारी पर सख्त कार्यवाही करने के आदेश समय सीमा की बैठक में जिला आपूर्ति अधिकारी को कलेक्टर श्री मिश्रा ने दिये। उन्होने कहा कि शीघ्र ही कार्यवाहियां सुनिश्चित करें, जो कि सतत् रुप से चलें भी। खाद्यान्न की कालाबाजारी करने वाले किसी भी व्यक्ति को ना छोड़ें।एनआरएलएम के तहत स्वीकृत प्रकरणों के संबंध में कलेक्टर ने बैठक में रिव्यू किया। जिसमें बैंकर्स द्वारा संचालित योजना की जानकारी पोर्टल में दर्ज नहीं करने पर एलडीएम को निर्देशित करते हुये कहा कि बैंकर्स को आदेशित करें कि वे पोर्टल में प्रकरणों की एन्ट्री सुनिश्चित करें। बैंकर्स की बैठक में मैं स्वयं इसका रिव्यू करुंगा।टीएल मीटिंग में महिला एवं बाल विकास अधिकारी को सेफ सिटी के लिये की जाने वाली गतिविधियों में तेजी लाने के निर्देश भी कलेक्टर ने दिये। केडीए के कार्यों के रिव्यू के लिये पृथक से मीटिंग आयोजित करने की बात भी उन्होने कही। जनसुनवाई, सीएम हेल्पलाईन, पीजीआर और टाईम लिमिट के प्रकरणों का डिटेल्ड रिव्यू भी कलेक्टर ने बैठक में किया। टीएल मीटिंग में एसडीएम रोहित सिसोनिया, बलबीर रमन, प्रिया चन्द्रावत, डिप्टी कलेक्टर नदीमा शीरी, संघमित्रा गौतम, एसीईओ जिला पंचायत गौरव पुष्प सहित अन्य विभागों के अधिकारी भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *