आज़ादी को लेकर कंगना के अशोभनीय बयान पर एनएसयूआई ने कड़ा एतराज, आजादी की पुस्तकें भेजकर कहा -पढ़कर दिमाग का शुद्धिकरण कर लें

आज़ादी को लेकर कंगना के अशोभनीय बयान पर एनएसयूआई ने कड़ा एतराज, आजादी की पुस्तकें भेजकर कहा -पढ़कर दिमाग का शुद्धिकरण कर लें

कटनी ! अभिनेत्री कंगना रनावत के आजादी के संबंध में दिए गए अशोभनीय बयान को लेकर एनएसयूआई ने कड़ा एतराज जताते हुए देश के वीर शहीदों और आजादी के लिए संघर्ष करने वाले वीर सपूतों को अपमानित करने वाली घिनोनि सोच बताया है। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुंदन के निर्देश पर कटनी जिलाध्यक्ष व राष्ट्रीय संगठक दिव्यांशु मिश्रा अंशु ने आजादी से संबंधित 3 पुस्तकें डिस्कवरी ऑफ इंडिया,द भगत सिंह रीडर्स और इंडिया आफ्टर गांधी कंगना के पते पर पोस्ट करते हुए कहा है,कि पुस्तके पढ़कर आजादी की वास्तविकता को जानने के साथ वो अपने दिमाग मे भरे कीचड़ को साफ करते हुए देश से माफी मांगे।जारी बयान में अंशु मिश्रा ने कहा है,भाजपा राज में विकृत मानसिकता वालों को सम्मानित कर इतिहास को तोड़कर अंतरराष्ट्रीय स्तर देश की छवि गिराने की कोशिशें हो रही है।भाजपा और सरकार की शह पर ऐसी घृणित बयानबाजी कर शहीदों,स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों का अपमान किया जा रहा है,कभी बर्दास्त नही किया जाएगा।एनएसयूआइ माँग करती है,कंगना पर क़ानूनी कार्यवाही के साथ उन्हें दिया हुआ पद्मश्री सम्मान तत्काल वापस लिया जाए।एनएसयूआई शहीदों,स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और देश की प्रतिष्ठा बनाये रखने के साथ भीख में पुरस्कार लेने वाली सिरफिरी नेत्री के खिलाफ कार्यवाही के लिए संघर्ष करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *