OMG……पत्रकारिता की आड़ में कर रहा था ये गंदा धंधा….??

लग्जरी कार और 2 पेटी शराब के साथ पकडाया युवा पत्रकार

शराब माफियाओं के खिलाफ लिखने वाला खुद ही निकला शराब तस्कर

पत्रकारिता के नाम पर काला कारोबार करने वाले पत्रकार पत्रकारिता जगत को बदनाम करने में कोई गुरेज नही कर रहे है, अवैश शराब बिक्री पर पुलिस पर प्रश्नचिन्ह खडा करने वाला खुद ही अवैध शराब परिवहन करते पकडा गया, पत्रकारिता का रौब दिखाकर बचने का प्रयास किया, लेकिन कोतवाली पुलिस ने लग्जरी कार और दो पेटी शराब के साथ जिले के युवा पत्रकार बने फिर रहे अरविन्द द्विवेदी को गिरफ्तार कर लिया।

अनूपपुर जिले में वर्षो से पत्रकारिता करने वाला युवा पत्रकार अरविन्द द्विवेदी पिता श्यामसुन्दर द्विवेदी उम्र 35 वर्ष निवासी वार्ड न. 12 सीतापुर बरबसपुर दो पेटी अवैध शराब के साथ 14 सितंबर को पुलिस के हत्थे चढ गया। पुलिस ने एफआईआर करते हुए लाल रंग की इकोस्पोर्ट फोर्ड वाहन क्रमांक सीजी 16 सीबी 4444 में अवैध अंग्रेजी शराब बिक्री करने हेतु शहडोल तरफ से अनूपपुर आ रहा था, तभी पुलिस ने घेराबंदी करते हुए चचाई रोड स्थित अण्डिरब्रिज तिराहा के पास पत्रकार के निजी वाहन इकोस्पोर्ट में रखी दो पेटी अवैध शराब को जब्त कर थाना परिसर में वाहन को खडा कर लिया।

यह है मामला

 

14 सितंबर को उपनिरीक्षक अनुराधा परस्ते के तथा स्टाफ कविता विकल के साथ अपराध विवेचना एवं आरोपी पता तलास हेतु कस्बा एवं देहात रवाना हुए थे इस दौरान मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि लाल रंग की इकोस्पोर्ट फोर्ड वाहन क्रमांक सीजी 16 सीबी 4444 में एक व्यक्ति अवैध अंग्रेजी शराब बिक्री करने हेतु शहडोल से अनूपपुर तरफ आ रहा है। मुखबिर की सूचना पर हमराह स्टाफ व साक्षीगण अमरीश सिंह पिता मंगलेश्वर सिंह उम्र 24 वर्ष, आदर्श सिंह पिता अजीत सिंह उम्र 24 वर्ष निवासी अमरकंटक रोड अनूपपुर को हमराह लेकर सूचना की तस्दीक करने पर अण्डिरब्रिज तिराहा चचाई रोड अनूपपुर में शहडोल तरफ से इकोस्पोर्ट फोर्ड वाहन क्रमांक सीजी 16 सीबी 4444 आते हुए दिखाई देने पर हमराह स्टाफ व साक्षीगणों की मदद से रुकवाया गया।

दो पेटी में 12-12 नग रायल स्टेग व्हीस्की

 

अवैध शराब के साथ आरोपी अरविन्द द्विवेदी पिता श्यामसुन्दर द्विवेदी उम्र 35 वर्ष निवासी वार्ड न. 12 सीतापुर बरबसपुर का होना बताया तथा वाहन को चेक करने पर वाहन के पीछे डिक्की में दो सफेद रंग की कार्टूनों में 12-12 नग रायल स्टेग व्हीस्की कुल 24 बाटल शराब प्रत्येक 750 एमएल कुल 18 लीटर प्रत्येक कीमती 1110 रूपये कुल कीमती 26640 रूपये का रखे हुए मिला। वाहन चालक अरविन्द द्विवेदी से शराब रखने व परिवहन करने के संबंध में वैध दस्तावेज पेश करने हेतु कहा गया जो कोई दस्तावेज नहीं होना बताया। आरोपी का उक्त कृत्य अपराध धारा 34 (1) आबकारी एक्ट का पाये जाने से अवैध शराब व वाहन को मुताबिक जसी पत्रक के 17.50 बजे जम कर कब्जा पुलिस लिया गया। तथा प्रकरण में सात वर्ष से कम सजा का प्रावधान होने से आरोपी का अभिरक्षा पत्रक तैयार कर धारा 41क जा.फौ. का नोटिस तामील कर न्यायालय उपस्थित हेतु पाबंद किया गया है। तथा जमशुदा वाहन को सुरक्षित थाना परिसर में खड़ा कराया गया व जमशुदा अवैध शराब को जमा मालखाना कराया गया व साक्षीगणों के कथन लेख किया जाकर वापसी पर आरोपी के विरुद्ध अपराध धारा सदर का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

पुलिस के उच्चाधिकारियों पर उठा चुका है सवाल

 

पत्रकार बन कर अखबार व सोशल मीडिया में अवैध शराब बिक्री व माफियाओं से साथ सांठ-गांठ कर पुलिस के उच्चाधिकारियों के खिलाफ कई बार सवाल खडा करने वाला युवा पत्रकार अरविन्द खुद की शराब तस्कर निकल गया। ऐसे जिले में कई पत्रकार है जो पुलिस व अन्य विभागों के अधिकारियों को रौब दिखाकर अपनी लेखनी के माध्यम से ब्लैकमेल करते है, जबकि इनके खुद के ही कार्य अवैध रूप से संचालित होते है, समय रहते अकर ऐसे पत्रकारो पर कार्यवाही नही की गई तो इनका कारोबार ऐसे ही बढता चला जायेगा और बेवजह पुलिस और पत्रकार बदनाम होते होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed