एक किलो घी में तेल और डालडा मिला बनाता था नकली घी, देसी घी की खुशबू के लिए एसेंस डालकर करता था नकली देसी घी तैयार , खाद्य सुरक्षा विभाग एवं पुलिस विभाग की संयुक्त कार्रवाई

एक किलो घी में तेल और डालडा मिला बनाता था  नकली घी, देसी घी की खुशबू के लिए एसेंस डालकर करता था नकली देसी घी तैयार , खाद्य सुरक्षा विभाग एवं पुलिस विभाग की संयुक्त कार्रवाई

कटनी ॥ खाद्य सुरक्षा विभाग एवं पुलिस विभाग की टीम ने गुरूवार को संयुक्त कार्रवाई करते हुए वंशस्वरुप वार्ड में एक क्षेत्र से नकली देसी घी बनाने वाले मकान में दबिश दी,  यहां डालडा और सस्ते रिफाइंड तेल में देसी घी की खुशबू के लिए एसेंस डालकर उससे नकली देसी घी तैयार करते थे। इसके बाद गाँव में जाकर घी बताकर बेच दिया जाता था। मौके से अधिकारियों ने 10 लीटर से अधिक नकली घी बरामद की है। कटनी कें रंगनाथ थाना अंतर्गत वंशस्वरुप वार्ड में नकली घी बनाने जाने का मामला सामने आया है। नकली घी तैयार कर 5 सौ रुपए के एक किलो घी में डालडा और तेल डालकर लगभग 12 किलो घी बनाया जाता था जिसके बाद नकली घी को कटनी जिले के ग्रामीण अंचल में जाकर बेचा जाता था। खाद्य सुरक्षा विभाग और पुलिस टीम की संयुक्त कार्रवाई के दौरान 10 किलो नकली घी और नकली घी बनाने की सामग्री जप्त की गई है। बताया जा रहा है कि वंशस्वरुप वार्ड में अधिकांश लोगों द्वारा नकली घी बनाने का अवैध कारोबार किया जा रहा है। पुलिस कार्रवाई के दौरान कई लोग घर ताला लगाकर भाग गए हैं। कार्रवाई के दौरान पूरे मोहल्ले में हड़कंप की स्थिति रही। कार्रवाई लवकुश पिता वैद्यनाथ सोनी के घर पर की गई है। वंशस्वरुप वार्ड में एक घर में नकली घी बनाने के जानकारी मिलने के बाद खाद्य विभाग  और पुलिस टीम द्वारा दबिश दी गई। छापामार कार्रवाई के दौरान खाद्य सुरक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा लगभग 10 किलो नकली घी जप्त किया गया हैं। खाद्य सुरक्षा विभाग के अधिकारी डीके दुबे ने बताया कि नकली घी बनाए जाने की सूचना मिलने पर खाद्य सुरक्षा विभाग और रंगनाथ थाने की पुलिस टीम के साथ लवकुश पिता वैद्यनाथ सोनी के घर पर दबिश दी गई। जहां पर से नकली घी सहित नकली घी बनाने की सामग्री जप्त की गई है। कार्रवाई के दौरान खाद्य सुरक्षा अधिकारी डीके दुबे, संजय गुप्ता, रंगनाथ थाना प्रभारी एसआई नितिन कमल सहित पुलिस बल मौजूद रहा।

खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि नकली घी बनाने के लिए लवकुश सोनी सागर जिले से घी खरीदता था एक किलो घी में डालडा और तेल डालकर लगभग 12 किलो नकली घी बना लेता था। घर में तैयार किए गए नकली घी को वह ग्रामीण अंचलों में बेचता था। एक दिन में कम से कम तीन से चार किलो घी बेचने की जानकारी सामने आई है।  नकली घी बनाने के लिए सागर से हर महीने करीब 10 किलो घी लाता था, जिससे महीने भर में लगभग सौ किलो घी बनाए जाने का अनुमान है। घी को ग्रामीण अंचलों में बेचा जाता था। एक किलो नकली घी 3 से 4 सौ रुपए के बीच बेचा जाता था। पुलिस ने बताया कि कार्रवाई के दौरान जानकारी मिली है कि मोहल्ले में कई लोग नकली घी बनाने का अवैध कारोबार कर रहे है, लेकिन पुलिस टीम पहुंचने की सूचना मिलने पर कई लोग घर में ताला लगाकर भाग गए हैं!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *