बाल श्रम की रोकथाम व किशोर श्रमिक के विनिमय पर दे विशेष ध्यान: कलेक्टर

जिला टास्क फोर्स समिति की बैठक में दिये निर्देश

शहडोल। कलेक्टर डॉ. सतेन्द्र सिंह की उपस्थिति में कलेक्ट्रेट कार्यालय के सभागार में जिला टास्क फोर्स समिति की बैठक संपन्न हुई। बैठक में कलेक्टर ने बाल श्रम की रोकथाम एवं पुनर्वास के संबंध में चर्चा करते हुए जिले के श्रम अधिकारियों को निर्देशित किया कि बाल श्रम की रोकथाम, किशोर श्रमिक के विनिमय पर विशेष ध्यान दिया जाए। बैठक में कलेक्टर ने क्षेत्रीय श्रम निरीक्षकों द्वारा बाल श्रम संभावित क्षेत्रों जैसे बस स्टैंड, होटल, नगर के प्रमुख चैराहों, ढाबा, प्रमुख उद्योगों एवं दुकान आदि का निरीक्षण करें तथा किशोर श्रमिकों को खतरनाक नियोजनों जैसे ईटा, भ_ा, मोटर गैरेज, ढाबा इत्यादि से विमुक्त कराने एवं उनके शैक्षणिक व आर्थिक पुनर्वास हेतु टास्क फोर्स समिति के सदस्यों के साथ समवन्य कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
बैठक में जिला बाल कल्याण समिति द्वारा सुझाव दिया गया कि समय-समय पर जिले में बाल कल्याण समिति, चाइल्डलाइन विशेष किशोर पुलिस इकाई एवं श्रम विभाग द्वारा संयुक्त टीम गठित कर बालश्रम संभावित क्षेत्रों को चिन्हित करें तथा पुष्टि होने पर पर्याप्त कार्य बल के साथ निरीक्षण कर कार्यवाही करें। बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिए कि श्रम विभाग द्वारा संचालित पेंसिल पोर्टल तथा महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित चाइल्ड लाइन 1098 का अधिकाधिक प्रचार-प्रसार किया जाए ताकि बाल श्रम से संबंधित दर्ज शिकायतों का निराकरण किया जा सके।
***********

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *