जीवन के लिए पर्यावरण की रक्षा जरूरी: संजीव

कोल माइंसों पर रखी पैनी नजर, वायु प्रदूषण की ओर सुरक्षा की दृष्टि

शहडोल। जिले के क्षेत्रीय कार्यालय बोर्ड अधिकारी संजीव कुमार मेहरा के अनुसार हमारे जीवन में पर्यावरण को बचा कर रखना हमारी प्रथम जिम्मेदारी है, आधुनिकता की दौड़ में हम पर्यावरण की तरफ ध्यान नहीं देंगे, तो आने वाला कल विनाश की दिशा में बढ़ता चला जाएगा और हम सभी नागरिकों के प्रथम जिम्मेदारी होती है, पर्यावरण के प्रति बहुत ही गंभीरता से कदम बढ़ाए और अपनी नित्य जिम्मेदारी समझते हुए कुछ ऐसा कर जाएं जिससे हमारा पर्यावरण का संतुलन बना रहे और हमारा आने वाला कल जीवंत रह सके।
अनावश्यक चीजों को बनाये उपयोगी
इस दिशा में काम करते हुए संजीव मेहरा ने प्रतिदिन कुछ ना कुछ नया करके क्षेत्र को प्रदूषण की स्थिति पर काफी नियंत्रण पाया है, प्रदूषण बोर्ड के अधिकारी श्री मेहरा का कहना है कि हम चाहे तो हमारे आसपास फैले हुए अनावश्यक बड़ी चीजों को भी ध्यान देने पर उन्हें उपयोगी बनाकर सदुपयोग में लाया जा सकता है और पर्यावरण को संरक्षित रखने के प्रति एक कदम बढ़ाया जा सकता है।
खराब टायरों का बनाया गमला
श्री मेहरा ने अपने कार्यालय पर पेड़-पौधों को लगाने के लिए खराब पड़े हुए गाड़ी के टायरों को गमला बनाते हुए टायरों में पेंट कर रंग-बिरंगा आकार देते हुए दर्जनों की संख्या में बड़े आकार का गमला बनाकर उसमें कई प्रकार के फूल एवं लताओं का बाग बनाकर बहुत ही खूबसूरत माहौल बना रखा है, साथ ही खराब पड़े धर्मों को उपयोग में लाते हुए उन्हें काटकर झूला आकार का डस्टबिन एवं उसमें कलरफुल करते हुए ब्रह्म से खुशियों का निर्माण कर शानदार आकार प्रदान करते हुए निष्क्रिय कबाड़ की चीजों को पर्यावरण को संरक्षित करने लायक बनाते हुए समाज के सामने पेश किया है।
ईको पुष्प वाटिका का निर्माण
श्री मेहरा द्वारा कार्यालय के बगीचे में अनेकों प्रकार से फूल पत्ते लगाकर खूबसूरती तो बढ़ाई है, साथ ही पहाड़ों को संरक्षित रखने के लिए किस प्रकार पेड़ लगाकर पत्थर से सजाकर पानी को रोकने के एवं जल संवर्धन कैसे किया जा सकता है, इसे समझाने का बखूबी प्रयास किया है। हमारे समाज में तुलसी के पत्तों को जीवन बूटी, आयुर्वेदिक दवा के रूप में माना जाता है। इस पर भी अधिकारी द्वारा विशेष ध्यान देकर तुलसी वन बनाया गया है, यही नहीं कार्यालय में लगे हुए बांस की गुणवत्ता इतनी शानदार है कि आपको देखकर ही लगेगा कि यह एक अलग प्रकार की बागवानी है। कार्यालय के ऑफिस में कबाड़ से निकले हुए कई प्रकार के गाड़ी के सामानों को अन्य प्रकार के डस्टबिन के उपयोग में लाने ओके साथ साथ कैसे उन्हें पर्यावरण को सुंदर बनाने में भी उपयोग लाया जा सकता है, इस बात को आप बखूबी समझा सकते हैं।
खदानों पर पैनी नजर
क्षेत्रीय कार्यालय द्वारा रेस्पिरेबल डस्ट सैंपलर के माध्यम से नेशनल एंबियंट एयर क्वालिटी मॉनिटरिंग प्रोग्राम के अंतर्गत परिवेशीय वायु की क्वालिटी जांचने के लिए कार्यालय में मशीन लगाई गई है, जिससे संभाग के साथ-साथ पूरे जिले के पर्यावरण में बनने वाले खतरे को भाप कर कई प्रकार के सलाह एवं प्रतिबंध लगाकर पर्यावरण को बचाने में अपनी भूमिका अदा कर रहे हैं, औद्योगिक क्षेत्र पावर हाउस, ओरियंट पेपर मिल, सोडा फैक्ट्री एवं कोल माइंस के खदानों पर पैनी नजर बनाकर समय-समय पर हिदायत देते हुए पौधे लगाने एवं खतरनाक रसायनिक वायु प्रदूषण की ओर सुरक्षा की दृष्टि से कार्य कराते रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *