मानसिक एवं बौद्धिक विकास के लिए गुणात्मक शिक्षा आवश्यक: कलेक्टर

विद्यालय परिसर में हैण्डपम्प लगवाने के कार्यपालन यंत्री पीएचई को

दिए निर्देश

केन्द्रीय विद्यालय के प्रबंधन समिति की बैठक सम्पन्न

शहडोल। कलेक्टर एवं अध्यक्ष शाला प्रबंधन केंद्रीय विद्यालय डॉ. सतेन्द्र सिंह ने केंद्रीय विद्यालय शहडोल की विद्यालय प्रबंधन समिति की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में प्राचार्य द्वारा कलेक्टर को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। बैठक में कलेक्टर ने एजेन्डानुसार उल्लेखित बिन्दुओ, स्टाफ पोजिसन, एचिवमेंट, एकेडमिक, छात्रों के परीक्षा परिणाम, एडमिशन, स्मार्ट क्लास, साफ-सफाई एवं स्वछता, विद्यालय में पुस्तकालय की उपयोगिता इत्यादि पर विस्तार से चर्चा की। कलेक्टर ने कहा कि छात्रों की अध्ययन में जो भी किसी भी प्रकार का व्यवधान न आएं यह सुनिश्चित किया जाएं। साथ ही कोरोना महामारी को देखते हुए शासन के आवश्यक दिशा-निर्देशों का पालन करना भी सुनिश्चित किया जाएं।
बैठक में कलेक्टर ने कहा कि किसी भी संस्था में शिक्षा का स्तर तभी सर्वोतम रह सकता है, जब वहॉ साफ एवं स्वच्छ वातावरण हो, साथ ही छात्रों के मानसिक एवं बौद्धिक विकास के लिए गुणात्मक शिक्षा प्रदान किया जाएं। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाएं कि विद्यालय में छात्रों को अध्ययन के लिए सभी आवश्यक सुविधाएं सुलभ हो।
बैठक में केन्द्रीय विद्यालय के प्राचार्य बी.़आर. डे ने विद्यालय के उपलब्धियों एवं विद्यालय के शिक्षक परिवार द्वारा छात्रों के हित में किए गए प्रयासों से कलेक्टर को अवगत कराया। उन्होंनें विद्यालय में पानी की कम उपलब्धता होने पर विद्यालय परिसर में हैण्डपंप लगवाने की ओर कलेक्टर एवं अध्यक्ष शाला प्रबंधन केंद्रीय विद्यालय डॉ0 सतेन्द्र सिंह ध्यान आकृष्ट किया। इस पर कलेक्टर ने तत्काल कार्यपालन यंत्री पीएचई को निर्देशित किया कि तीन दिवस के अंदर केन्द्रीय विद्यालय परिसर में हैण्डपम्प लगवाना सुनिश्चित करें। बैठक में कलेक्टर ने प्राचार्य को निर्देशित किया कि विद्यालय परिसर में फाल्स सिलिंग व अन्य निर्माण संबंधित आवष्यताओं के पूर्ति शासन के दिशा-निर्देशानुसार किया जाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *