राष्ट्रीय मुद्रीकरण के फैसले के विरोध में रेलवे श्रमिक यूनियन की हड़ताल आज

शहडोल। साउथ ईस्ट सेन्ट्रल रेलवे श्रमिक यूनियन के द्वारा ऑल इण्डिया रेलवे मेंस फेडरेशन के आव्हान पर राष्ट्रीय मुद्रीकरण के फैसले के विरोध में चेतावनी दिवस एवं धरना प्रदर्शन 08 को सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के सामने, बिलासपुर (छ.ग.) में आयोजित किया जा रहा है। भारत सरकार द्वारा रेलवे की परिसम्पत्तियों को बेचे जाने के खिलाफ में एआईआरएफ के आव्हान पर श्रमिक यूनियन के द्वारा बिलासपुर जोन के तीनों मंडलों रायपुर, नागपुर एवं बिलासपुर मंडल के मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन किया जायेगा। भारत सराकर द्वारा मुद्रीकरण अभियान के तहत् रेलवे के 1,52,496 करोड़ रूपये की मूल्यवान परि-सम्पत्तियों, जिनमें 400 रेलवे स्टेशन, 673 किलोमीटर डेडीकेटेड फ्रेंट कॉरीडोर, 15 रेलवे स्टेडियम, 1400 किलोमीटर ओएचई ट्रैक, 90 पैसेंजर गाडिय़ों, अनगिनत रेलवे कालोनी, 256 गुड्स शेड, 4 पर्वतीय रेलवे और 741 किलोमीटर कोकण रेलवे ट्रैक शामिल है। इसके बेचने के विरोध में यह धरना प्रदर्शन किया जा रहा है।
एआईआरएफ के महामंत्री शिवगोपाल मिश्रा ने भारतीय रेल के 17 जोन 8 औद्योगिक इकाईयों में चेतावनी दिवस एवं धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। श्रमिक यूनियन के महामंत्री मनोज बेहरा के नेतृत्व में बिलासपुर जोन के तीनों मण्डलों में धरना प्रदर्शन का आयोजन किया जा रहा है। भारत सरकार के राष्ट्रीय मुद्रीकरण पाईपलाईन योजना के तहत् 6.00 लाख करोड़ रूपये अर्जित करने के लिए भारत सरकार के द्वारा सार्वजनिक उपकरणों को बेचने का षडय़ंत्र किया जा रहा है। भारतीय रेलवे का निजीकरण एवं पंूजीपतियों के हवाले नहीं होने देंगे। भारत सरकार द्वारा मुद्रीकरण योजना पर त्वरित अंकुश नहीं लगाया जाता, तो जन आंदोलन किया जायेगा।
श्रमिक यूनियन के केन्द्रीय पदाधिकारी एस.एम.जयप्रकाश, संजय सिन्हा, के.अमर कुमार, एस.एम.बंधोपाध्याय, पी.के.यादव, ए.के.पाण्डेय, ए.के.मोहंती, सी.नवीन कुमार-मंडल संयोजक, शाखा सचिव आशीष लाल, राघवेन्द्र पाण्डेय, कृष्णकांत, एम.आर.कश्यप, ओ.एस.ठाकुर, तारकेश्वर, हर्षवर्धन प्रदान, स्वरूप हलदार, पी.एस.राव, अजीत कुमार, संदीप चंद्रा, विनय साहू, सी.पी.राठौर, सहित अनेक पदाधिकारी, सदस्यग एवं बड़ी संख्या में रेलवे कर्मचारी उपस्थित होकर उक्त धरना कार्यक्रम होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *