ढाई साल के कार्यकाल में निभाई जिम्मेदारी : देवेन्द्र

प्राचार्य के स्थानान्तरण पर आयोजित हुआ विदाई समारोह

धनपुरी। ढाई साल पहले शिक्षा विभाग के द्वारा कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय धनपुरी में उन्हें प्राचार्य का अतिरिक्त प्रभार दिया गया था और मिली जिम्मेदारी को निभाने के लिए उन्होंने कभी भी उसमें कोई कमी नहीं की। शिक्षा के स्तर को आगे बढ़ाना और शिक्षकों के साथ मिलकर काम करने का काफी अनुभव मिला और कोरोना काल के संकट के दौर में भी विद्यालय के कार्य को आगे बढ़ाने का काम किया गया। चुनौतियां अभी भी काफी है लेकिन समय के साथ-साथ यह भी दूर होती जाएगी, कन्या हायर सेकेंडरी स्कूल का नाम पूरे जिले में अलग पहचान रखती है यहां पर शिक्षा के स्तर को सुधारना एक बड़ी चुनौती थी और ढाई साल के कार्यकाल में उन्होंने इस चुनौती को स्वीकार करते हुए विद्यालय के परीक्षा परिणाम को सुधारने का काम किया क्योंकि इस विद्यालय में वह अतिरिक्त प्रभार में थे और अब उनका स्थानांतरण यहां से हो चुका है और उम्मीद है कि नए प्राचार्य विद्यालय में बेहतर व्यवस्था बनाने में अपना पूरा योगदान देंगी। उक्त उद्गार शुक्रवार को शासकीय कन्या उत्तर माध्यमिक विद्यालय धनपुरी के प्राचार्य देवेंद्र श्रीवास्तव ने स्थानांतरण के बाद विदाई कार्यक्रम में कहीं। इस अवसर पर मंच पर नवागत प्राचार्य श्रीमती अनुपमा प्रकाश, हायर सेकेंडरी अमली नंबर 3 के प्राचार्य सूरज त्रिपाठी, बालक हायर सेकेंडरी स्कूल के केडी सिंह, वरिष्ठ व्याख्याता उमेश सिंह, नगर पालिका धनपुरी के स्वच्छता निरीक्षक पुरुषोत्तम गुप्ता मंचासीन थे।
कार्यक्रम में पूर्व प्राचार्य देवेंद्र श्रीवास्तव ने कहा कि ढाई सालों में इस विद्यालय से उन्हें काफी स्नेह और प्यार मिला सभी विद्यालय शिक्षा व्यवस्था को आगे बढ़ाने को लेकर काम किया और इस साल विद्यालय का परीक्षा परिणाम भी बेहतर आया, उन्होंने विद्यालय के स्टाफ और शिक्षकों अपनी बात रखते हुए कहा कि यह कि शिक्षक अपनी जिम्मेदारियों का बाखूबी निर्वहन करते हैं जिस कारण से विद्यालय के हर काम अच्छी तरह होते थे और वह यह विश्वास दिलाते हैं कि विद्यालय में जब भी उनकी आवश्यकता होगी वह मौजूद होंगे क्योंकि विद्यालय में उन्हें काफी कुछ दिया है जिसे वह कभी भुला नहीं सकते। उन्होंने विद्यालय के बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि आप सभी मन लगाकर पढ़ाई करें और विद्यालय का नाम रोशन करें जब भी मेरी आवश्यकता पड़े याद करना वह आपके समकक्ष जरूर मौजूद रहेंगे।
नवागत प्राचार्य अनुपमा प्रकाश ने कहा कि पूर्व प्राचार्य देवेंद्र श्रीवास्तव ने इस विद्यालय को आगे बढ़ाने में अपना काफी योगदान दिया है उनसे काफी कुछ सीखने को भी मिला है और वह यह विश्वास दिलाती हैं कि विद्यालय की बेहतर व्यवस्था और पढ़ाई आगे बढ़ाने का काम करेंगी, विद्यालय के बेहतर परीक्षा परिणाम आए इस पर इनका पूरा ध्यान होगा और सफलतापूर्वक विद्यालय संचालित हो इसमें सभी का योगदान महत्वपूर्ण होगा। शिक्षकों के द्वारा पूर्व प्राचार्य देवेंद्र श्रीवास्तव को साल श्रीफल देकर उनका सम्मान भी किया गया। कार्यक्रम का संचालन आशुतोष तिवारी ने किया जबकि आभार व्याख्याता उमेश सिंह ने किया। कार्यक्रम में राधेश्याम सोनी, प्रदुम पांडे, अंकित सोनवानी, ललित द्विवेदी, ऋषिकेश दवे, विपिन सिन्हा, बृज मोहन मिश्रा, रामाकांत तिवारी, अरुण शर्मा, आरती मिश्रा, अंजना रागनी, नगर पालिका से रामविशाल नापित, संतोष शर्मा मौजूदा रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *