5 सौ कें 16 नोटों कें साथ पटवारी 8 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार , ऋण पुस्तिका मे नाम चढ़ाने मांगे थे रूपए

5 सौ कें 16 नोटों कें साथ पटवारी 8 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार , ऋण पुस्तिका मे नाम चढ़ाने मांगे थे रूपए

 

कटनी ॥ लोकायुक्त ने कटनी में एक बार फिर करवाई करते हुए रिश्वतखोर पटवारी कों रंगेहाथ गिरफ्तार कर प्रचार अधिनियम के तहत कार्रवाई की है। पटवारी कें द्वारा जमीन का नामांतरण करने कें एवज में 8हजार की मांग की थी । जिस पर लोकायुक्त की 7 सदस्यीय टीम कें द्वारा करवाई की गई । इस संबंद्ध में जानकारी कें अनुसार कटनी जिले कें ग्राम हरदुआ स्टेशन निवासी आनंद कुमार गौतम ने 14-11-2022.को जबलपुर लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक कार्यालय में उपस्थित होकर पटवारी रामनाथ बुनकर कें विरुद्ध रिश्वत की मांग की शिकायत की थी जिस पर लोकायुक्त ने करवाई करते हुए शिकायत को सही पाया और और पटवारी को रंगेहाथ पकड़ने के लिए जाल बिछाया। टीम ने प्लानिंग बनाकर आनंद कुमार गौतम को रुपये लेकर पटवारी रामनाथ बुनकर के पास भेजा। जैसे ही उसने पटवारी को रुपये दिए, जबलपुर लोकायुक्त की टीम ने कटनी जिले के मूडवारा-2 इलाके में पदस्थ पटवारी रामनाथ बुनकर को 8 हज़ार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया ।

जमीन का नामांतरण करने के एवज में मांग रहा था पैसे
जानकारी के अनुसार पटवारी, आनंद कुमार गौतम
नाम के एक युवक से जमीन के नामांतरण के मामले में दबाव बनाकर पैसों की मांग कर रहा था।  पीड़ित युवक ने इसकी शिकायत लोकायुक्त से की थी। पीड़ित आनंद कुमार गौतम ने बताया कि ग्राम हरदुआ स्टेशन कें पास उसकी माँ की जमीन थी जिसका दो भईया कें बीच बंटवारा हो जगया था । जिसका नामांतरण होना था। जिसका नामांतरण होना था लेकिन कटनी कें मूडवारा-2 पर पदस्थ पटवारी रामनाथ बुनकर द्वारा अपना काम करने की जगह टालमटोली कर रहा था। जबकि दो माह पूर्व पटवारी कें द्वारा तहसीलदार कार्यालय में नामांतरण के लिए आवेदन लगाया गया था। कार्य ना होने पर जब बार-बार उनसे पूछा गया तो उन्होंने 8 हजार रुपये की रिश्वत की मांग की और कहा की आदेश हो गया है जिसके एवज में रूपए चाहिए और दोनों भाईयों का नाम चढ़ाकर ऋण पुस्तिका दे दी जाएगी। पटवारी की मांग से परेशान होकर पीड़ित आनंद कुमार गौतम ने लोकायुक्त से संपर्क किया और मंगलवार को 8 हजार रुपये देने के दौरान आरोपी को ट्रैप कराने में मदद की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.