एसडीओपी ने थाने को किया नजरअंदाज@ प्रेस कॉन्फ्रेंस में थपथपाई अपनी पीठ

सरई थाना अंतर्गत पकड़ा गया दस किलो गांजा

(शशिकांत कुशवाहा+9329031634)
सिंगरौली। जिले के सरई थाना के निवास चौकी पुलिस ने सोमवार को 10 किलो गांजा के साथ तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है । अपाचे बाइक में सवार होकर तीनों बदमाश गांजा लेकर वहां से गुजर रहे थे पहले से ही ताक में बैठी पुलिस ने रोक कर जब तलाशी ली तो उनके पास से 10 किलो गांजा बरामद हुआ । इसी सिलसिले में देवसर एसडीओपी कार्यालय में मंगलवार को पत्रकार वार्ता रखी गई! जिसमें मुख्य भूमिका में एसडीओपी देवसर रहे इस दौरान उन्होंने न केवल मौखिक रूप से जमकर अपनी तारीफ की बल्कि प्रेस रिलीज में भी वरिष्ठ अधिकारियों को दरकिनार कर दिया।
थाना सरई को किया नजरअंदाज
आश्चर्य की बात यह है कि प्रेस रिलीज के पहली चार लाइन में उन्होंने अपनी तारीफों के पुल बांध दिए। पुलिस अधीक्षक एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक का जिक्र उन्होंने प्रेस रिलीज की छठवीं लाइन में किया। यही नहीं उन्होंने संबंधित थाना सरई को भी नजरअंदाज कर दिया। शायद इसकी वजह यही रही हो कि कहीं गांजा पकडऩे का श्रेय चौकी एवं थाना प्रभारी के बीच भी बट जाए!
मादक पदार्थ के साथ पकड़ाए तस्कर
प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपनी तारीफ का बखान करते एसडीओपी ने बताया निवास चौकी के चिरई डोल रेलवे फाटक के पास सोमवार को 10 किलो गांजा के साथ 3 बदमाशों को पकड़ा है अब इस कार्यवाही का खुलासा करने को लेकर चाहे भले ही एसडीओपी आशुतोष द्विवेदी अपनी नजर में सही हों लेकिन लोग तरह तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं ऐसा माना जा रहा है कि जब सरई थाना क्षेत्र अंतर्गत कार्यवाही हुई है ऐसी स्थिति में सबसे पहले सरई थाना क्षेत्र में प्रेस कॉन्फ्रेंस करना चाहिए या फिर एसपी ऑफिस बैढऩ में करना चाहिए वहीं सरई थाना प्रभारी को भी इस प्रेस कांफ्रेंस में शामिल करना चाहिए लेकिन ऐसा नहीं हुआ और सरई थाना क्षेत्र के मामले को लेकर जियावन थाना क्षेत्र अंतर्गत एसडीओपी कार्यालय देवसर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई अब चर्चा यह है कि एसडीओपी ने पुलिस विभाग के सिस्टम को नजरअंदाज किया है दरअसल एसडीओपी देवसर आशुतोष द्विवेदी अभी हाल ही में देवसर में पदस्थ हुए हैं और उनके आने के बाद अवैध कार्यों में जमकर अचानक इजाफा हुआ ऐसी स्थिति में निवास चौकी अंतर्गत 10 किलो गांजा पकड़ा गया इस सुनहरे अवसर को एसडीओपी नहीं खोना चाहते थे इसी वजह से उन्होंने श्रेय लेने के लिए एक प्लान तैयार किया और चौकी प्रभारी निवास को बुलाकर प्रेस विज्ञप्ति बनाई गई तथा प्रेस विज्ञप्ति में जमकर अपनी पीठ थपथपाई एसडीओपी के इस क्रियाकलाप को लेकर तरह-तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है फिलहाल पुलिस कप्तान सिंगरौली ने अवैध मादक पदार्थ गांजा के खिलाफ अभियान चलाकर धरपकड़ की कार्यवाही शुरू करा दी है ऐसे में अब अनुमान लगाए जा रहे हैं कि अतिशीघ्र सिंगरौली जिले में गांजा की बिक्री पर अंकुश लगेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *