शहीद बसंत सिंह बघेल क्रिकेट टूर्नामेंट का हुआ समापन

ईटा भट्टा ने जीता फाइनल मुकाबला
अनूपपुर। मुख्यालय से लगभग 15 किलोमीटर दूरी पर स्थित जैतहरी जनपद के ग्राम पंचायत धीरौल में 31 जनवरी दिन रविवार को शहीद बसंत सिंह बघेल क्रिकेट टूर्नामेंट का समापन कराया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में बलवंत सिंह बघेल  तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में जिला पंचायत सदस्य विश्वनाथ सिंह, डॉ. राज तिवारी, प्रवीण सिंह बघेल, बी.के  मिश्रा, उपसरपंच वेदक पटेल, नरेंद्र सिंह, साईं टेंट पटना कला के संचालक देवी सिंह, नवीन पांडे मंडल अध्यक्ष, बिसाहू लाल साहू, दिल्लू पाठक, विजय सिंह, प्रेम लाल पटेल के रूप में उपस्थित रहे और सभी ने पूजा अर्चना की और फिर ग्राउंड पर जाकर सभी खिलाडयि़ों से मिलकर सब को खेल भावना खेलने का आशीर्वाद दिया और कहा कि खेल से ही आदमी आगे बढ़ता है जिसे हर किसी व्यक्ति को खेल भावना का परिचय देना चाहिए, क्रिकेट टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला अमलाई और ईटा भट्टा के बीच खेला गया। जिसमें अमलाई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 15 ओवरों में  105 रन बनाएं और ईटा भट्टा को जीतने के लिए 106 रनों का  स्कोर खड़ा कर दिया तो वहीं दूसरी पारी में  ईटा भट्टा ने स्कोर का पीछा करते हुए निर्धारित 12 ओवर में 107 रन बनाकर  ईट भट्टा ने 3 विकेट से फाइनल मुकाबले को जीत लिया, मैंन आप द सीरीज अमलाई टीम के खिलाड़ी  दत्ता को दिया गया जिन्होंने अपने पूरे मैच में काफी अच्छा प्रदर्शन किया वही मैन ऑफ द मैच ईटा भट्टा के खिलाड़ी शेकू को दिया गया द्यविजेता टीम ईटा भट्टा को 21000 नगद व ट्रॉफी और उपविजेता टीम अमलाई को  11,000 नगद व ट्राफि से कमेटी द्वारा नवाजा गया।
हर किसी को खेल खेलना चाहिए
मुख्य अतिथि के रूप में रहे बलवंत सिंह बघेल ने कहा कि खेल भावना से सभी को खेल खेलना चाहिए कभी किसी को मायूस नहीं होना चाहिए  खेल से ही  इंसान आगे बढ़ता है हर इंसान को इसलिए खेल खेलना चाहिए, क्योंकि मैं भी बचपन में क्रिकेट का काफी अच्छा खिलाड़ी हुआ करता था।
सभी में खेल भावना होनी चाहिए
युवा समाज सेवी  आबिद खान ने कहा कि छोटा हो या बड़ा  हर किसी को खेल भावना से ही खेल खेलना चाहिए क्योंकि मैं भी छोटे में क्रिकेट का काफी अच्छा खिलाड़ी हुआ करता था और अपनी टीम को जीत दिलाकर वापस लौटा करता था इसलिए खेल को खेल भावना से ही खेलना चाहिए।
खेल से शरीर रहता है स्वस्थ 
श्री साईं टेंट पटना कला के संचालक देवी सिंह ने कहा कि चाहे वह क्रिकेट, फुटबॉल,  और फिर हां कि क्यों ना हो हर व्यक्ति को खेल के प्रति अपना विशेष योगदान देना चाहिए  और ग्राम पंचायत से खेल कर लोग बाहर जाएं और अपनी प्रतिभा बाहर भी  दिखाएं यही मेरी सभी खेल प्रेमियों से अनुरोध है, साथ ही एक छोटे से गांव में एक अच्छा ग्राउंड भी है, टूर्नामेंट मैं कमेटी का रहा, विशेष योगदान जिसमें मुख्य निर्णायक की भूमिका निभा रहे थे, मनोज सिंह तथा किशन प्रजापति और वही  कमेटी से राजकुमार पटेल, राजू पटेल, बाबा खान, आशीष यादव, विनोद पटेल, राजकुमार जयसवाल, फूलचंद जयसवाल, किशन प्रजापति, उदित जयसवाल, वाजिद खान, सिकंदर वारसी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *