अवैध कारोबार का गढ़ बनता सिंहपुर क्षेत्र

तिवारी-जायसवाल ने बिगड़ रखी है क्षेत्र की फिजा

शहडोल। जिले भर में शराब का अवैध कारोबार कर रहे ठेकेदार अब अधिक लाभ कमाने के चक्कर में गांव-गांव अवैध बिक्री कर अच्छा खासा मुनाफा कमा रहे है। गांव-गांव हो रहे इस अवैध शराब निर्माण में ठेकेदारों व ग्रामीणों द्वारा बेरोक-टोक इस कारोबार को अंजाम दिया जा रहा है। ग्रामीण युवकों को शराब उपलब्ध कराई जा रही है, जिससे ये युवक इन ठेकेदारों के लिए काम भी करते हुए देखे जा रहे हैं। इससे जहां एक ओर ग्रामीण अंचलों का माहौल खराब हो रहा है तो, वही दूसरी ओर युवा पीढ़ी नशे की लत की आदी होती जा रही है और ऐसा भी नहीं है कि शराब के अवैध कारोबार की जानकारी जिले के आबकारी विभाग और पुलिस प्रशासन को न हो, लेकिन जिले का यह प्रशासन जिले में अपनी सुस्ती व नाकामी का ही परिचय दे रहा है।
घरों में बनती है अवैध शराब
ग्रामीण क्षेत्रों में अवैध शराब का गोरखधंधा जोरों पर है, जगह-जगह ग्रामीणों को शराब बनाते हुए भी देखा जा सकता है। इन ग्रामीण क्षेत्रों में महुए की शराब बेहद प्रचलित भी है और आसानी से मिलने वाली चीज भी, जिससे इसे शराब बनाने में सबसे उपयुक्त समझा जाता है। कई गांवों में अवैध शराब निर्माण कानून से बेखौफ खुलेआम किया जा रहा है। जबकि इन गांवों के संबंधित थानों में पुलिसिया तंत्र के पास इन सारे गोरखधंधों की जानकारी पहले से मौजूद रहती है, परंतु फिर भी इस अवैध गोरखधंधे पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती।
पुलिस मांगती है कमीशन
सिंहपुर थाना क्षेत्र में इन दिनों फिर अवैध कारोबार अपने चरम पर हैं, जहां एक ओर नदियों से रेत की चोरी हो रही है, वहीं दिन-दहाड़े वाहनों में शराब भर थाना से कुछ दूरी पर उतारी जा रही है, स्थानीय पुलिस अमले को भली-भांति पूरे मामले की जानकारी होने के बाद भी कार्यवाही न करना उनकी कार्य कुशलता को दर्शाता है। सूत्रों की माने तो थाना में निचले पद पर पदस्थ चंद वर्दीधारी बदमाशों पर कार्रवाही करने की बजाय उनसे अपना हिस्सा मांगती है और बदले में उनसे अपनी दोस्ती-यारी निभाती है। जिससे इन आपराधियों को शह मिल रही है और इनका कारोबार फल-फूल रहा है।
तिवारी-जायसवाल सब पर भारी
शराब ठेकेदार द्वारा सफेद कलर के वाहन के माध्यम से वाहन में अवैध शराब भरकर सिंहपुर में सप्लाई की जा रही है। सबसे आश्चर्य की बात तो यह है कि सिंहपुर थाना के नजदीक जायसवाल नामक कथित शराब माफिया द्वारा ठेकेदार की अवैध शराब उतरवाई जाती है, वहीं तिवारी नामक रेत चोर द्वारा पूरे क्षेत्र में अवैध का कारोबार किया जा रहा है, मजे की बात तो यह है कि थाना परिसर के अंदर पंचायत द्वारा बनाये गये शौचालय निर्माण में उपयोग हुई रेत की रॉयल्टी पंचायत या ठेकेदार से मांग की जाये तो, पूरी पोल खुलकर सामने आ जायेगी।
इनका कहना है…
मैं अभी बाहर हूं, मेरे रहने के दौरान ही कार्यवाही अच्छी होगी।
सुभाष दुबे
थाना प्रभारी
सिंहपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *