मानपुर जनपद पंचायत के नौगमां पंचायत में भ्रष्टाचार का बोलवाला

मानपुर। जनपद पंचायत के ग्राम पंचायत नौगमां में जबरदस्त भ्रष्टाचार का बोल वाला सामने आया जब पंचायत ऑडिटर पंकज पटेल ने ग्राम पंचायत नौगमां के बारे में बताएं की ग्राम पंचायत में किए गए कार्यों का भौतिक सत्यापन किया जाना है जिसमें नौगमां पंचायत का ऑडिट करना था, जिसकी जानकारी ग्राम पंचायत के सरपंच श्रीमती बबीता बैगा और सचिव  प्रेमदास सिंह जी को बताया गया था, लेकिन 5 दिन समाप्त होने के बाद भी ग्राम पंचायत नौगमां के सरपंच और सचिव पंचायत भवन में ऑडिट के लिए नहीं मिले।
पंचायत के द्वारा बनायें गये 15 लाख, दस हजार रूपयों से निर्मित रपटा का स्टॉप डेम व खेल मैदान महुआर टोला का सत्यापन किया जाना था, जो सरपंच और सचिव प्रेमदास सिंह के उपस्थित एवं पंचायत का रिकॉर्ड ना मिलने से ऑडिट का काम प्रभावित हुआ है। जिसमें इस संबंध में ग्रामीण जनों से चर्चा की गई तो उन्होंने ग्राम पंचायत नौगमां के रपटा का स्टॉप डेम को मौके पर दिखाया जो गुणवत्ता विहीन है और शासन-प्रशासन की आंखों में धूल झोंक कर घटिया किस्म का रपटा कम स्टॉप डेम का निर्माण कराया गया है जो जांच का विषय है।
वही ग्राम  पंचायत नौगमां महुआर टोला में प्रशासन के लाखों रुपए से निर्मित खेल मैदान बनाया गया है, लेकिन मौके पर कुछ भी खेल मैदान जैसा नहीं है वहां तो झाडिय़ां ही झाडिय़ां हैं, प्रशासन के द्वारा खेल मैदान बनाए जाने के लिए दी गई लाखों रुपए राशि का आपस में बंदरबांट कर लिया गया है, मौका स्थल पर किसी भी प्रकार का कार्य नहीं कराया गया है जो उच्च स्तरीय जांच का विषय है।
पंचायत ऑडिटर पंकज पटेल ने बताया की इस ग्राम पंचायत नौगमां मैं जितने काम कराए गए हैं उनकी विधिवत जांच होनी चाहिए ग्रामीणों को साथ में लेकर पंकज पटेल ने ग्राम पंचायत नौगमां के अन्य कार्य भी देखें वही ग्रामीणों ने सरपंच व सचिव प्रेमदास सिंह को पंचायत से हटाए जाने व उनके  द्वारा कराए गए कार्यों की उच्च स्त्रीय जांच की मांग की है।
वही ग्राम पंचायत नौगमां के निवासियों का कथन है की 7 वर्षों से सरपंच व सचिव के द्वारा कराए गए सभी कार्यों की जिला टीम के द्वारा जांच होनी चाहिए क्योंकि यहां हर कार्य का पैसा लिया जाता है खेत तालाब, मेड़बंधान, कपिल धारा, प्रधानमंत्री आवास को दिलाने के नाम पर भ्रष्टाचार और तो और वृद्धावस्था विकलांग विधवा पेंशन दिलाने के नाम पर भारी भ्रष्टाचार किया गया है, वही इनके मास्टर रोल मैं ऐसे नाम दर्ज हैं जो कभी भी ग्राम पंचायत के किसी कार्यों को करने लायक नहीं है उनके नामों पर लाखों रुपए मस्टर रोल में नाम डालकर निकाले गए हैं फर्जी ट्रैक्टर के बिल वाउचर लगाए गए हैं शौचालय निर्माण भी ठेका में दिया गया था, जो अपने निर्माण दुर्दशा पर आंसू बहा रहा है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सबसे अच्छी योजना प्रधानमंत्री आवास योजना व शौचालय निर्माण योजना मैं भी भारी भ्रष्टाचार किया गया है। इसी तरह ग्राम पंचायत 15 लाख रुपए की लागत से सीसी रोड ग्राम सेहरा महादेव सिंह के घर से देवीदीन पाल घर तक जो बनी है महज 35 मीटर की बनी है 3स्टाप डेम बने हैं जिसमें दो का पैसा आहरण कर लिए हैं तीसरा स्टॉप डेम रनिंग में है स्टॉप डेमो में सरिया आदि का प्रयोग बिल्कुल नहीं किया गया जो पूर्णतया गुणवत्ता विहीन है जिसकी लागत 10 लाख रुपए अर्थात 30 लाख के रफ्टा कम स्टॉप डेम है सुदूर सड़क 13 लाख का कटहार में वही सुदूर सड़क मार्ग प्रधानमंत्री रोड से मैं सेहरा से भरतपुर नदी तक है कामता पटेल के घर होते हुए 13 लाखों रुपए से बनाई गई है जो बहुत ही घटिया किस्म की रोड का निर्माण किया गया है जिसकी जांच कराने हेतु ग्रामीणों ने मांग की है। ग्राम पंचायत नौगमां निवासियों ने कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव से सारे बिलों की व सारे कार्यों की जांच की मांग किए हैं।ं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *