छात्रों ने तैयार किया मैकेनिकल हैंगिंग स्ट्रक्चर

शहडोल। सड़कों पर बैठे आवारा मवेशी अक्सर वाहनों की चपेट में आकर बुरी तरह घायल हो जाते हैं, जिसके बाद अक्सर रीड और पैर में चोट लगने के कारण वह दोबारा उठ नहीं पाते और एक ही जगह पड़े रहने से बेड शोर होने लगता है, जिसके कारण उनकी मौत हो जाती है। इसी समस्या को मद्दे नजर रखते हुए गौ सेवा संस्थान सिंगरौली के छात्रों ने मैकेनिकल स्ट्रक्चर डिजाइन किया और अभी तक का सबसे सस्ता और सफल स्ट्रक्चर बनाया जिसे पशु चिकित्सालय बैढऩ में रखा गया है, इसकी परिकल्पना इंजीनियरिंग के छात्र अभय जैन द्वारा किया गया था, जिसके बाद युसूफ खान द्वारा स्ट्रक्चर को साकार रूप दिया गया। उत्कर्ष सिंह द्वारा बताया गया कि आमतौर पर बाहर से यह स्ट्रक्चर मंगाने पर करीब 20 से 25000 पड़ता है मगर हमारे लोगों ने इसे मात्र 8000 में बनाकर तैयार कर दिया। यह मैकेनिकल स्ट्रक्चर करीब एक कुंटल का है जोकि 4 कुंटल तक का वेट संभाल सकता है और इसे कहीं भी आसानी से ले जाया जा सकता है। पशु चिकित्सालय के डॉक्टरों द्वारा भी इसकी सराहना की गई है और उपयोग बताया गया है।
**

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *