जैतपुर के तहसीलदार पर अभद्रता का आरोप, कार्यवाही की मांग

शहडोल। जिले के शीर्ष पर बैठे अफसरों की मनमौजी कम होने का नाम ही नहीं ले रही । जहां एक ओर वो अपने मनपसंद विभाग की फरमाइश कर रहे हैं वहीं इस बेलगाम नौकरशाही से आम जनों के विकास का मुद्दा पिछड़ता जा रहा है । जहा वरिष्ठ गणमान्यजन व रिटायर्ड शिक्षकों के साथ अभद्रतापूर्ण व्यवहार से त्रस्त हो कर आज ज्ञापन सौंपा गया है।

 

यह है मामला
बीते दिनों जिले के जैतपुर तहसील कार्यालय में वरिष्ठ रिटायर्ड शिक्षक के साथ तहसीलदार दीपक पटेल द्वारा अभद्रता की गई अपने किसी व्यक्तिगत कार्य से तहसील गए जहां उनके किसी संबंध में जानकारी लेने पर तहसीलदार द्वारा अभद्र भाषा का उपयोग किया जाने लगा वही पूर्व में भी भाजपा के कार्यकर्ताओं को भी तहसीलदार दीपक पटेल की अभद्रता का दंश झेलना पड़ा था जिससे रुष्ठ हो कर इसकी मनमानी सार्वजनिक हुई और मंडल अध्यक्ष अपने कार्यकर्ताओं के सम्मान में खड़े हो गए जहाँ इकट्ठा हो कर इनकी कार गुजारी का खाखा तैयार कर अनुविभागीय अधिकारी के नाम ज्ञापन सौपते हुए नायाब तहसीलदार से उचित कार्यवाही की मांग की गई है।

ये नौकरशाह रिटायरमेंट से पहले ही अपने लिए सेवा विस्तार और मनपसंद विभाग चुन लेते है। सरकार भी उनकी सेवा-भक्ति को देखते हुए उनके अनुभव के नाम पर मूक सहमति दे देती है। सूबे में कई ऐसे अधिकारी है जो विभिन्न विभागों के स्थानीय मुखिया के तौर पर कमान संभाले रहे हैं। इनके प्रोटोकॉल के नाम पर जनता की गाढ़ी कमाई को लुटाया जा रहा है।

राजनीति के जानकारों का भी मानना है कि बेलगाम नौकरशाही और भ्रष्ट राजनेताओं के बीच मिलीभगत जिले के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। जनता के बीच जा कर काम करने वाले अधिकारियों की सूबे में कमी है। ऐसे में सूबे में शासन स्तर पर पुनर्गठन की जरुरत है ताकि सीमित संसाधनों वाले हमारे प्रदेश पर बोझ कम हो सके।

इनकी रही उपस्थिति
उचित कार्यवाही को लेकर जैतपुर मंडल अध्यक्ष सूर्य प्रकाश पांडे के नेतृत्व में अनुविभागीय अधिकारी को ज्ञापन सौपते समय उपस्थिति पदाधिकारी- सांसद प्रतिनिधि – अर्जुन सोनी, पूर्व मण्डल अध्यक्ष प्रवीण सिंह , भाजपा मंत्री नरेन्द्र मिश्रा , सतीष राव , अमन कुमार तिवारी, शैलेन्द्र सिंह, शहनवाज खान, आयुष, आर्दश तिवारी अनिल भारतीय, सतीष पाण्डेय, अभिषेक रामविशाल रवि शुक्ला, यश त्रिपाठी, सुमित, अदित्य, तुलन नापित गुड्डू, हरिशंकर लतेश्वर सहित कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *