पुलिस वर्दी में लोगो से ठगी करने वाला भूतपूर्व आरक्षक पुलिस की गिरफत में

आरोपी पर रूपयें पांच हजार का था ईनाम घोषित
एस.पी. की स्पेशल टीम द्वारा लिया गया हिरासत में

शहडोल। पुलिस की वर्दी में और स्पेशल टास्क में होने का झांसा देकर ऑनलाईन मनी कियोस्क सेन्टर्स के माध्यम से पैसा ट्रांसफर करने वाले लोगो के साथ धोखाधड़ी करने वाला आरोपी जयप्रकाश मिश्रा पिता श्यामलाल मिश्रा निवासी शहडोल को स्पेशल टीम द्वारा पकड़कर अग्रिम कार्यवाही हेतु थाना जयसिंहनगर को सुपुर्द किया गया है।

फरियादी अतीश शुक्ला निवासी ग्राम करकी के साथ दिनांक 17.9.2021 को किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा पुलिस की वर्दी में वीडियों कॉल करके अपने रिश्तेदार का एक्सीडेन्ट होने की बात पर एकखाते में पैसा ट्रांसफर करने की बात की गई एवं उनके पडौसी दुकानदार को वीडियो कॉल पर पैसा देने का झांसा देकर बैंक खाते में पैसा ट्रांसफर कराया जाकर पैसा नहीं देकर वहां से फरार होकर धोखाधड़ी की गई थी। फरियादी की शिकायत पर थाना जयसिंहनगर जिला शहडोल में अपराध क्रमांक 451/21 धारा 419 420 120-बी भादवि का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया जाकर अज्ञात आरोपी के मोबाईल नम्बर
के आधार पर पतारसी की जा रही थी।
आरोपी जयप्रकाश मिश्रा पिता श्यामलाल मिश्रा उम्र 41 साल निवासी वार्ड न. 17. रामानुज नगर, होटल अमन पैलेस के पीछे शहडोल से विस्तृत पूंछताछ में ज्ञात हुआ कि आरोपी वर्ष 2006 में सशस्त्र पुलिस बल की 26 वी वाहिनी में आरक्षक के पद पर नियुक्त हुआ था जो स्थानान्तरण पर हटवी वाहिनी विसबल जबलपुर में लगातार गैर हाजिर होकर फरार हो गया था जहां से अनुशासनात्मक कार्यवाही में आरोपी को सेवा से वर्ष 2015 में बर्खास्त कर दिया गया था।
आरोपी जयप्रकाश के विरूद्ध पूर्व में थाना माधवनगर जिला कटनी के अपराध क्रमांक 158/21 धारा 420 भादवि पंजीबद्ध होकर दिनांक 24.7.2021 से जमानत पर रिहा है। ग्राम बिरसा जिला बालाघाट के शासकीय रेस्ट हाउस केयर टेकर की शिकायत पर आरोपी जयप्रकाश के विरूद्ध थाना बिरसा जिला बालाघाट में अपराध क्रमांक 176/21 धारा 170 भादवि का प्रकरण पंजीबद्ध कर पुलिस वर्दी, बेल्ट, जूते एवं नम्बर प्लेट जप्त की जा चुकी है। उक्त आरोपी पुलिस सेवा के दौरान एवं बर्खास्तगी के उपरांत भी विभिन्न अवैध गतिविधियों में संलिप्त रहा है जिसके संबंध में पुलिस द्वारा तथ्यों की जांच की जा रही है।
आरोपी जयप्रकाश मिश्रा वारदात के समय अक्सर ही पुलिस की वर्दी में रहता था और सादे कपडों में पुलिस में होने का झांसा देकर वारदात किया करता था। आरोपी जयप्रकाश मिश्रा से उसके द्वारा घटना में प्रयुक्त ओप्पो कम्पनी का मोबाईल फोन, सेमसंग कम्पनी का मोबाईल फोन, आधार कार्ड, पैन कार्ड, एक सिम कार्ड दो ब्लेक सीडी जप्त की गई है। आरोपी को पुलिस रिमाण्ड पर लिया जाकर अन्य वारदातो के बारे में जानकारी प्राप्त की जा रही है।
आरोपी जयप्रकाश मिश्रा पिता श्यामालाल मिश्रा उम्र 41 साल निवासी वार्ड न. 17 रामानुज नगर होटल अमन पैलेस के पीछे शहडोल की गिरफतारी में पुलिस अधीक्षक की स्पेशल टीम के सउनि(अ) अमित दीक्षित, आरक्षकद्वय विकास मिश्रा अखिलेश द्विवेदी अभिषेक दीक्षित की उल्लेखनीय भूमिका रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *