गरीब की बेटियों के विवाह की जिम्मेदारी उठा रही सरकार _____खाद्य मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह

गिरीश राठौर

सामूहिक कन्या विवाह में 74 वैवाहिक जोडे परिणय सूत्र                                     में बंधे

अनूपपुर / मध्यप्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की महत्वाकांक्षी मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना अभिनव योजना है। इस योजना के माध्यम से गरीब परिवारों की बेटियों के विवाह, उपहार आदि के साथ ही वैवाहिक खर्च का वहन राज्य सरकार द्वारा किया जाता है। सरकार के सद्प्रयास हर वर्ग का सम्बल देने वाले हैं। उक्ताशय के विचार मध्यप्रदेश शासन के खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह ने जिले के जनपद पंचायत अनूपपुर के बदरा मुख्यालय के सामुदायिक भवन में आयोजित मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह समारोह को संबोधित करते हुए व्यक्त किए। इस अवसर पर कलेक्टर सुश्री सोनिया मीना, जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती प्रीती रमेश सिंह, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अभय सिंह ओहरिया, विंध्य विकास प्राधिकरण के पूर्व उपाध्यक्ष श्री रामदास पुरी, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के पूर्व संचालक श्री बृजेश गौतम, नगरपालिका पसान के अध्यक्ष श्री राम अवध सिंह, जनपद अनूपपुर की अध्यक्ष श्रीमती धनमती सिंह, जनपद अनूपपुर के उपाध्यक्ष श्री तेजभान सिंह, जिला पंचायत सदस्य सुश्री भारती केवट, श्रीमती किरण देवी चर्मकार, जिला आत्मा गवर्निग बोर्ड की सदस्य श्रीमती रश्मि खरे, एसडीएम अनूपपुर श्री कमलेश पुरी, तहसीलदार अनूपपुर श्री भागीरथी लहरे, जनपद अनूपपुर की मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुश्री उषा किरण गुप्ता, 74 वैवाहिक जोडों सहित उनके अभिभावक, परिजन तथा बड़ी संख्या में नागरिकगण उपस्थित थे। 

खाद्य मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह ने कहा कि कोरोना की महामारी होने से सामूहिक कन्या विवाह का आयोजन स्थगित रखा गया था, जिसे प्रदेश शासन द्वारा अब पुनः प्रारम्भ कर दिया गया है। इससे हर पात्रताधारी परिवारों को उनकी कन्याओं के विवाह की जिम्मेदारी सरकार उठाएगी। उन्होंने नव युगल दम्पत्तियों को विवाह की शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य, खुषहाली तथा समृद्धि की कामना की तथा जनपद अनूपपुर द्वारा सामूहिक कन्या विवाह को सफलतापूर्वक सम्पन्न करने के लिए बधाई और शुभकामनाएं दी।

समारोह को सम्बोधित करते हुए कलेक्टर सुश्री सोनिया मीना ने कहा कि वर्ष 2006 में मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना निःशक्त, निर्धन और कमजोर परिवारों की सहायता के लिए आम लोगों की भावना और उनकी भागीदारी को दृष्टिगत रखते हुए प्रारम्भ हुई। कोरोना महामारी के पश्‍चात् जिले में यह आयोजन पहली बार हो रहा है। उन्होंने दम्पत्तियों को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में सभी पात्र जोड़ों को गृहस्थी की स्थापना के लिए 38 हजार की घरेलू जीवन में उपयोग की सामग्री तथा 11 हजार रुपये चेक दिए जाने के संबंध में जानकारी दी तथा योजना के पात्रता के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

इस अवसर पर जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के पूर्व संचालक श्री बृजेश गौतम ने भी कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए राज्य शासन की योजनाओं के संबंध में जानकारी देते हुए लाभ उठाने का आव्हान किया।

गाजे-बाजे के साथ दूल्हों का बारातियों के साथ सामुदायिक भवन में आगमन हुआ। जहां पर खाद्य मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह ने सभी बारातियों का स्वागत किया। इसके पश्चात कन्या पूजन के उपरांत विधि-विधान के साथ पुरोहित की ओर से 74 वैवाहिक जोडों का विवाह संपन्न कराया गया। विवाह की रस्म को पूरा करने के लिए हर सामग्री शासन की ओर से उपलब्ध कराई गई थी। वहीं वर-वधु पक्ष के खान-पान की व्यवस्था भी सुचारु रूप से की गई थी।

5 जोड़ों का खाद्य मंत्री ने किया कन्यादान

मध्यप्रदेष शासन के खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह ने मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत 5 कन्याओं का कन्यादान किया। उन्होंने इस अवसर पर नवयुगलों को उपहार भी भेंट किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.