ऐतिहासिक विजयराघवगढ़ किला परिसर में तीन दिवसीय विजयराघवगढ़ महोत्सव का रंगारंग कार्यक्रमों के बीच हुआ समापन,स्थानीय कलाकारों का मंच से कलेक्टर ने किया सम्मान

ऐतिहासिक विजयराघवगढ़ किला परिसर में तीन दिवसीय विजयराघवगढ़ महोत्सव का रंगारंग कार्यक्रमों के बीच हुआ समापन,स्थानीय कलाकारों का मंच से कलेक्टर ने किया सम्मान


कटनी ॥ यह वीर शहीद राजा सरयू प्रसाद की पावन नगरी है, जहां आजादी की क्रांति का बिगुल फूंका गया था। हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं, जिसमें उन वीर शहीदों को याद कर रहे हैं, जिन्होंने देश की आजादी में अपना योगदान दिया। आजादी का अमृत महोत्सव सही रूप में जब सार्थक होगा, जब हम शहीदों को तो याद करें ही अपने सामाजिक दायित्वों का भी निर्वहन करें। देश की सीमाओं पर हमारे जवान अपने परिवार को छोड़कर 24 घंटे जान जोखिम में डालकर सेवाएं देते हैं और हमारी जिम्मेदारी है कि उनके परिवारों का हम ध्यान रखें, उनको कोई कष्ट न होने पाए। यह बात कलेक्टर प्रियंक मिश्रा ने आजादी के अमृत महोत्सव अतंर्गत वीर शहीद राजा सरयू प्रसाद जी के ऐतिहासिक विजयराघवगढ़ किले में आयोजित तीन दिवसीय विजयराघवगढ़ महोत्सव के समापन अवसर पर अतिथि के रूप में कही।
कलेक्टर श्री मिश्रा ने कहा कि हमारा एक दायित्व यह भी है कि कुपोषण से मुक्ति दिलाने सरकार काम कर रही है। उसके अंतर्गत आंगनबाड़ी केन्द्रों को जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों व आमजन को गोद दिया जा रहा ताकि वहां आने वाले बच्चों, माताओं को समुचित सुविधाएं उपलब्ध हो सकें और कुपोषण मुक्त समाज बन सके। इसके लिए आप सभी संकल्प लें और आगे आकर यह अभियान में सहभागिता करें। इससे पहले कलेक्टर श्री मिश्रा सहित स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने राजा सरयू प्रसाद के चित्र पर माल्यार्पण कर उनकी शहादत को याद किया। स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने राजा सरयू प्रसाद की वीरगाथा पर प्रकाश डाला। कस्तूरबा गांधी छात्रावास की छात्राओं ने स्वागत गीत की प्रस्तुति दी।

जबलपुर के कलाकारों ने दी देशभक्ति गीतों की प्रस्तुति
समापन अवसर पर जबलपुर के आर्केस्टा हार्टबीट के कलाकारों ने मंच से देशभक्ति गीतों की रंगारंग प्रस्तुति दी। साथ ही जूनियर शशिकपूर व जूनियर जॉनी लीवर ने भी मिमकरी के माध्यम से लोगों को गुदगुदाया। तीन दिवसीय कार्यक्रम के दौरान मंच से प्रस्तुति देने वाले स्थानीय कलाकारों को भी कलेक्टर श्री मिश्रा सहित अन्य अतिथियों ने प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया। जिसमें रमना गांव की ग्वालटोली के साथ ही तपस्या ग्रुप की कलाकार मुस्कान उरमलिया, कलाकार राखी तोमर, दीपचंद कोरी, पंकज पटेल, अंकित कोरी शामिल थे। इस दौरान जनपद अध्यक्ष गंगाराम चौधरी, एसडीएम महेश मंडलोई, स्थानीय जनप्रतिनिधि उदयराज सिंह, सीएमओ पूजा बुनकर सहित अन्य अधिकारी, जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *