कुठला थाने मे पदस्थ सहायक उपनिरीक्षक का कारनामा , तत्काल संज्ञान में लेते एसपी ने सहायक उपनिरीक्षक को किया निलंबित आरोपी पकड़ने भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष कन्हैया तिवारी ” शैलेश ” से मांगे गाड़ी व डीजल

कुठला थाने मे पदस्थ सहायक उपनिरीक्षक का कारनामा , 
आरोपी पकड़ने भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष कन्हैया तिवारी ” शैलेश ” से मांगे गाड़ी व डीजल

तत्काल संज्ञान में लेते एसपी ने सहायक उपनिरीक्षक को किया निलंबित

कटनी ॥ पुलिस की कार्यप्रणाली सहित बर्बरता की खबरें अक्सर सुर्खियों में रहती हैं। अदालतों की फटकार, मानवाधिकार आयोग के नोटिस और विभिन्न प्रकार की कार्रवाई व प्रयास होने के बाद भी पुलिस की कार्यप्रणाली नहीं सुधर रही। एक बार फिर कटनी पुलिस के एक सहायक उपनिरीक्षक पर एक जनप्रतिनिधि से आरोपी को पकड़ने के लिए वाहन और डीजल की मांग का आरोप लगा है ! ताजा मामला कटनी जिले के कुठला थाना का है जहॉ पर पदस्थ सहायक उपनिरीक्षक विजेंद्र तिवारी पर कन्हैया तिवारी ” शैलेश ” प्रधान /अध्यक्ष पंचायत कटनी जनपद पंचायत कटनी , जिलाध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा कटनी के द्वारा एक पत्रकारवार्ता के माध्यम से लिखित आरोप लगाया है । जिसे मंत्री गृह मंत्रालय मध्यप्रदेश शासन भोपाल , गृह सचिव , म.प्र . शासन भोपाल , पुलिस महानिदेशक भोपाल उपपुलिस महानिदेशक ( शिकायत ) पुलिस मुख्यालय भोपाल , पुलिस महानिरीक्षक जबलपुर जोन , पुलिस कमिश्नर जबलपुर जोन को ईमेल के माध्यम से अवगत कराते हुये कार्यवाई की मांग की है !
इस संबंद्ध मे जानकारी के अनुसार पुलिस अधीक्षक कटनी को कन्हैया तिवारी ” शैलेश ” प्रधान/ अध्यक्ष जनपद पंचायत कटनी , जिलाध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा कटनी के द्वारा कुठला में पदस्थ सहायक उपनिरीक्षक श्री बिजेन्द्र तिवारी द्वारा दूरभाष क्रमांक :-9425003216 से कन्हैया तिवारी के दूरभाष क्रमांक :-9329759967 पर वाहन एवं डीजल की मांग करने के संबंध में दिनांक 06.04.2022 को समय 14:17 बजे पर फोन किया गया । सहायक उपनिरीक्षक बिजेन्द्र तिवारी द्वारा कन्हैया तिवारी से मुलजिम पकडने जाने हेतु गाडी एवं डीजल की मांग की गई है । जिस पर हमारे द्वारा कहा गया कि मैं बताता हूँ । पुनः श्री तिवारी सहायक उपनिरीक्षक द्वारा दुबारा फोन समय 15:20 बजे लगा कर फिर मांग को दोहराया गया । कन्हैया तिवारी ने उक्त मांग के संबंद्ध मे जानकारी भी चाही है कि क्या शासन स्तर से कोई आदेश अथवा निर्देश प्राप्त हुये हैं , जिसमें संगठन के पदाधिकारी अथवा जनप्रतिनिधि पुलिस को मुलजिम पकडने हेतु वाहन एवं डीजल उपलब्ध करवाने हेतु बाध्य हैं । यदि इस संबंध में कोई आदेश / निर्देश जारी किए गए हैं तो कृपया आदेश की प्रति उपलब्ध कराने का कष्ट करें । साथ ही क्या इस पूरे घटना क्रम में थाना प्रभारी पर भी सवालिया निशान उठ रहे है कि थाना प्रभारी के अधीनस्त कार्यरत अधिकारी / कर्मचारी किसकी अनुमति से इस तरह की मांग करते हैं । कन्हैया तिवारी यह भी सवाल उठाए है कि यदि जनप्रतिनिधि / जनसेवक के साथ जब पुलिस द्वारा ऐसी मांग की जा रही है तो आम नागरिक जनों / व्यवसायियों का क्या हाल होता होगा ॥
श्री तिवारी ने पत्र मे उल्लेख किया है कि इस तरह के कारनामे से मध्यप्रदेश शासन एवं सूबे के मुखिया के साथ – साथ गृह मंत्री एवं उनके मंत्रालय भी सवालों के घेरे में आ जाते हैं , जो निषपक्ष रूप से जनता की सेवा में लगे हुए अतः उक्त गंभीर विषय पर नियमानुसार कठोर कार्यवाही करने कि मांग श्री तिवारी द्वारा कि गई है!

डीजल-कार मांगना पड़ा भारी, एएसआई निलंबित

जनपद अध्यक्ष एवं भाजपा किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष कन्हैया तिवारी से कुठला थाने में पदस्थ सहायक उपनिरीक्षक बृजेंद्र तिवारी द्वारा डीजल व कार मांगना भारी पड़ गया है । इस मामले को लेकर जनपद अध्यक्ष ने पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार जैन से शिकायत की। इस गंभीर लापरवाही व कदाचरण को एसपी ने तत्काल संज्ञान में लिया और तत्काल सहायक उपनिरीक्षक बृजेंद्र तिवारी को निलंबित कर दिया है। बता दें कि बृजेंद्र तिवारी पर पूर्व में भी गंभीर आरोप लग चुके हैं।

इनका कहना है

मेरे संज्ञान में मामला आने के बाद तत्काल सख्त कार्यवाही करते हुए संबंधित पुलिसकर्मी को निलंबित कर दिया गया है कोई भी पुलिस अधिकारी हो या कर्मचारी मनमानी नहीं चलने दी जाएगी।

सुनील कुमार जैन, एसएसपी (कटनी )

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *