मध्यप्रदेश से छत्तीसगढ़ घुटरीटोला बॉर्डर क्रास करने वालों को लानी होगी कोबिड टेस्ट की रिपोर्ट

बी एल सिंह
अनुपपुर(डोला)- देश में लगातार फैल रही कोरोना वायरस को देखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी द्वारा मघ्यप्रदेश की सीमा से जुड़ी छत्तीसगढ़ व महाराष्ट्र की सीमा को सील करने के आदेश दिए गए जहाँ मध्यप्रदेश के रामनगर राममंदिर तिराहे पर 10 अप्रैल से चेकपोस्ट बनाया गया साथ ही पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ द्वारा भी अपनी समस्त सीमाओं को सील किया गया है आज 8 मई से कोरिया जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस को देखते हुए कोरिया जिले के मनेंद्रगढ़ में स्थित घुटरीटोला बॉर्डर पर शक्ति बढ़ा दी गई जहां पर मध्यप्रदेश से छत्तीसगढ़ की ओर आने वाले समस्त प्राइवेट वा कमार्शियल वाहनों के साथ ही वाहन में मौजूद लोग व एसईसीएल कर्मचारी रेलवे कर्मचारी बैंक व अन्य लोगों को आवागमन के लिए कोरोना जांच की रिपोर्ट बॉर्डर पर दिखानी होगी उसके उपरांत ही बॉर्डर से जाने दिया जाएगा।

*घंटो बॉडर पर रुके रहे कालरी कर्मचारियों सहित लोग*

मनेंद्रगढ़ में लगातार कोरोना संक्रमण के मरीज बढ़ रहे हैं और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री जी द्वारा कल वीसी के माध्यम से इस बात को गंभीरता पूर्वक लिया है और अधिकारियों को फटकार भी लगाई गई जिसके परिणाम स्वरुप मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की सीमा पर बने घुटरीटोला बॉर्डर से मनेंद्रगढ़ में एंट्री नहीं करने दी जा रही है जिनका नेगेटिव मेडिकल रिपोर्ट है होने के उपरांत ही बॉडर से जाने दिया जयेगा। सुबह से हड़कंप मचा जब हल्दीबाड़ी खदान जो मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की सीमा पर स्थित है और दोनों राज्यों के कर्मचारी खदान में जाते हैं आज खदान में भी कर्मचारियों को खोंगापानी बॉर्डर पर ही जाने से रोक दिया गया व सभी को कोरोना निगेटिव की रिपोर्ट दिखाने की बात कही गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *