सडक किनारे चल रहे भाई-बहन को ट्रेलर ने रौंदा

सडक किनारे चल रहे भाई-बहन को ट्रेलर ने रौंदा

दोनो पर गाडी चढाकर ट्रेलर सहित फरार हुआ चालक

कोतवाली प्रभारी अमर वर्मा के निर्देशन में सूक्ष्मता से जांच में जुटी पुलिस

जैतहरी स्थित हिन्दुस्तान पॉवर लिमिटेड तक कोयला व राखड की भारी भरकम गाडियां प्रतिदिन जिला मुख्यालय के बीच शहर से रात्रि में गुजरती है, तेज रफ्तार ये गाडियां अक्सर बडे हादसे का कारण बनती है, कुछ इसी तरह का मामला सोमवार-मंगलवार की रात्रि लगभग 12:40 बजे आया, जहां एक ट्रेलर ने सडक किनारे चल रहे भाई-बहन को रौंद दिया और चालक ट्रेलर सहित फरार हो गया, जिसकी जांच में पुलिस जुट गई है।

अनूपपुर। जिला मुख्यालय के जैतहरी रोड में स्थित तहसील कार्यालय के पास सोमवार-मंगलवार की रात्रि एक ह्दय विदारक घटना घटी, घटना इतनी विभत्स रही कि जिसने भी सुना उसके रोंगटे खडे हो गये। घटना में एक ट्रेलर वाहन ने सडक किनारे चल रहे भाई-बहनो को पहियों तले रौंद दिया, जिससे की घटना स्थल पर ही उनकी मौत हो गई। सूचना के बाद मौके पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने रात्रि में ही अस्पताल के सफाई कर्मियों की मदद से चादर में शव के तुकडों को उठाया और फ्रीजर में रखते हुए मंगलवार की सुबह शव की शिनाख्त होने के बाद परिजनों की उपस्थिति में पोस्टमार्टम कराते हुए विवेचना प्रारंभ की।

बेलगाम रफ्तार ने ली भाई-बहन की जान

 

जिला मुख्यालय में अण्डरब्रिज मार्ग से लेकर तुलसी कॉलेज तक नो-इंट्री जाने घोषित किया गया है, जिसमें की सुबह तकरीबन 6:30 से लेकर रात्रि 9 बजे तक किसी भी भारी वाहन को आवाजाही की अनुमति नही है, लेकिन नो-इंट्री का समय समाप्त होने के बाद खनिज परिवहन में लगे तमाम प्रकार के वाहनों की रफ्तार बेलगाम हो जाती है, जबकि शहर के मध्य की सडक की गति सीमा निर्धारित है, इसके बाद भी वाहन चालकों की बेलगाम रफ्तार पर नही की गई कार्यवाही ने सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात्रि एक भाई-बहन की जान ले ली।

यातायात विभाग की बडी लापरवाही

यूं तो यातायात विभाग अपने मूल कार्यो को छोडकर अन्य कार्यो में बडी संजीदगी दिखाता है, लेकिन वास्तव में यातायात की व्यवस्था शायद अब उसके बूते की बात नही रही। तभी तो जहां पर जिस समय यातायात व्यवस्था की कमान संभालनी चाहिए उस दौरान मुख्य सडकों पर यातायात विभाग का अमला मिलेगा, अण्डरब्रिज मार्ग पर जिसे दौरान यातायात नही होता तब विभागीय आरक्षक तैनात रहते है, लेकिन नो-इंट्री जोन खुलते ही अण्डरब्रिज से लेकर अमरंकटक तिराहा, शंकर मंदिर चौराहा, इंदिरा तिराहा, तहसील परिसर के पास व न्यायालय के सामने आरक्षकों की तैनाती होनी चाहिए जो नही होती और उसकी वजह से भारी-भरकम वाहन, चालकों द्वारा इस तरह दौडाये जाते कि सडक किनारे चलने वाले भी पहियों के चपेट में आ जाते है।

पहले भी घटित हो चुकी घुटनाएं

सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात्रि तेज रफ्तार ट्रेलर वाहन के द्वारा कारित की गई दुघटना कोई पहला मामला नही है। इसके पहले भी अमरकंटक तिराहे के पहले हाइवा वाहन के द्वारा ठोकर मारते हुए एक सायकल सवार को मौत के घाट उतारा गया था, वही इसके पूर्व की बात करें तो शंकर मंदिर चौराहे के पास एक युवक पर वाहन चढ गया था, जिसके उपचार के महीनों बाद मौत हो गई थी, वही बेजुबान पशुओं के ऊपर आय दिन वाहनों के पहिये चढते है।

कब बनेगा स्वीकृ़त बाई-पास मार्ग

अनूपपुर शहर में बढते यातायात के दवाब को कम करने के लिए बाई-पास मार्ग स्वीकृत है, यहां तक की निर्माण कार्य का जानकारो की माने तो टेंडर भी हो चुका है, लेकिन आपसी सामंजश व तकनीकी समस्या ने बाई-पास मार्ग पर रोडे अटकाये हुए है और इसका खामियाजा आये दिन लोगों को दुर्घटना का यहां तक की मौत के आगोश में समाकर चुकाना पड रहा है। सोमवार-मंगलवार की घटित घटना के बाद अनूपपुर शहर आक्रोशित है यदि वाहनो की रफ्तार बेपरवाह चालको पर कार्यवाही और बाई-पास मार्ग के निर्माण को गति नही दी गई तो जनआंदोलन हो सकता है।

पैदल जा रहे थे भाई-बहन

इस सम्बंध मे मिली जानकारी के अनुसार सोमवार-मंगलवार की मध्य रात्रि ग्राम सोन मौहरी निवासी मृतिका भागवती पति स्व, गोवर्धन सिंह धुर्वे उम्र 33 वर्ष जो अपने भाई धन सिंह पिता हीरालाल सिंह मसराम उम्र 31 वर्ष निवासी गाम अंजनी थाना जैतहरी के साथ सीधी जिला में वन विभाग मिली सहायक वर्ग 3 के अनुकंपा नियुक्ति मे अपनी पदस्थापना की उपस्थिति के लिए गई थी, वापस अनूपपुर आ कर देर रात दोनो पैदल अनूपपुर के वार्ड नंबर 9 मे अपने रिश्तेदार हीरालाल के यहां जा रहे थे तभी इंदिरा चौक से जैतहरी की ओर जा रहा अज्ञात वाहन ने दोनों को ठोकर मारते हुए बुरी तरह कुचल कर भाग गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.