भालू के हमले से घायल चरवाहा का उपचार जारी

अनूपपुर। जिला मुख्यालय से 40 कि.मी.दूर आदिवासी बाहुल्य ग्राम कदमसरा के जंगल में बकरियों को चराने गया 65 वर्षीय चरवाहा राममिलन पिता अकालू भैना पर भालू ने हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया जिसे परिजनों द्वारा जैतहरी से जिला चिकि.अनूपपुर में उपचार हेतु भर्ती कराया जहॉ उपचार जारी है इस दौरान वन विभाग द्वारा उपचार हेतु प्रारंभिक सहायता राषि प्रदान की प्राप्त जानकारी अनुसार वन परिक्षेत्र जैतहरी के वेंकटनगर बीट अंतर्गत कदमसरा ग्राम के खिरनाटोला निवासी 65 वर्षीय राममिलन पिता अकालू भैना शनिवार की दोपहर 12 बजे घर के 6 बकरियों को लेकर घर से 5-6 कि.मी. दूर बघोरी रास्ता जंगल की खाई में चरा रहा था तभी खाईयों से निकले दो भालुओं के दौडाऩे पर वह भागा भागते समय एक भालू ने पंजे से पीठ मुह से दॉये पैर में ऐड़ी के पास,बॉये हॉथ में गदेली के पीछे काटा हो-हल्ला करने पर भालू के झाडिय़ों की ओर जाने पर खून से लथपत राममिलन पहाड़ी के उपर चढ़ कर अपने पुत्र सोहन को फोन पे घटना की जानकारी देने से सोहन एवं अन्य परिजन मौके पर पहुॅचकर खून से लथपत पिता को मोटर साईकिल में बैठाकर घर लाकर 108 एम्बुलेंस से जैतहरी अस्पताल में प्राथमिक उपचार बाद रिफर करने पर जिला चिकि.अनूपपुर में डियूटी डॉ.अन्सुमान मिश्रा ने भर्ती कर उपचार प्रारंभ किया जो खतरे से बाहर है घटना की सूचना पर सुरेष बहादुर सिंह वन परि.अधिकारी जैतहरी, रामषुरेष षर्मा परिक्षेत्र सहायक वेंकटनगर,शशिधर अग्रवाल वन्यजीव संरक्षक/सामाजिक कार्यकर्ता अनूपपुर,सतेन्द्र कुमार मिश्रा वनरक्षक जैतहरी जिला चिकित्सालय पहुॅचकर भालू के हमले से घायल राममिलन एवं परिजनो से मिलकर एवं चिकित्सक से उपचार एवं स्वास्थ्य की जानकारी लेकर शासन के नियमानुसार प्रारंभिक सहायता राषि प्रदाय की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *