सच्चा मित्र वही जो सुख दुःख में बराबर का हिस्सेदार बने – कृपाशंकर जी महाराज रीठी में चल रही श्रीमद्भागवत कथा में गुरुवार को हुआ सुदामा चरित्र कथा का सुंदर वर्णन

सच्चा मित्र वही जो सुख दुःख में बराबर का हिस्सेदार बने – कृपाशंकर जी महाराज

रीठी में चल रही श्रीमद्भागवत कथा में गुरुवार को हुआ सुदामा चरित्र कथा का सुंदर वर्णन

कटनी, रीठी।। आज समाज में बढ़ रही दहेज प्रथा को रोकने के लिए इस दहेज रूपी दानव से मुक्ति के लिए हम सबको अपने सामाजिक दायित्वों का निर्वहन करते हुए इसे रोकने आगे आना होगा। क्योंकि यह एक बहुत बड़ी बुराई हमारे समाज में उत्पन्न हुई है। रीठी राम जानकी मंदिर परिसर मे चल रही श्रीमद्भागवत कथा एवं श्री विष्णु महायज्ञ के सातवें एवं अंतिम दिवस चित्रकूट से पधारे कथा व्यास कृपा शंकर जी महाराज ने व्यासपीठ से कहें। उन्होंने यह भी कहा कि आज लोग स्वार्थ भरी मित्रता कर रहे हैं जो बेहद खतरनाक है। जरूरी है मित्र वही हो जो सुख और दुख में बराबर का हिस्सेदार बने इसलिए मित्रता करना है तो सुदामा जैसी करिए। महाराज श्री ने सुदामा चरित्र की कथा का सुंदर वर्णन व्यासपीठ से किया। इसके बाद कथा स्थल पर कार्यक्रम संयोजक विपिन तिवारी द्वारा महाराज श्री सहित सभी का आभार व्यक्त किया गया एवं घोषणा की गई कि उन्नीसवां आयोजन भी अगले साल होगा। साथ ही कलाकारों को भी मंच से पूर्व मंडी अध्यक्ष संतोष राय, संतोष पटेल, जगदीश अग्रवाल, जयकुमार जैन ने पुष्पा हार पहना कर विदाई दी। कथा के अंत में क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने पर पुलिस थाना रीठी के प्रधान आरक्षक राजकुमार शर्मा जोंटी को भी सम्मानित किया गया। श्रीमद्भागवत कथा के अंतिम दिन कथा स्थल पर स्थानीय पत्रकारों को भी सम्मानित किया गया। इस अवसर पर सांसद प्रतिनिधि पद्मेश गौतम, कांग्रेसी नेता रामनरेश त्रिपाठी, राजा जगवानी, बीएम तिवारी, देवीदीन गुप्ता सहित अन्य जनो ने उपस्थित होकर पुण्य लाभ अर्जित किया। कार्यक्रम संयोजक विपिन तिवारी ने बताया कि आज शुक्रवार को कथा स्थल पर सुबह 8 बजे से दोपहर 12 बजे तक हवन तथा 12 से 4 बजे तक भंडारा एवं शाम 4 बजे से फूलों की होली रासलीला कलाकारों द्वारा की जाएगी और कार्यक्रम का समापन किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed