दो नाबालिग को किया परिजनों के हवाले

शहडोल। पुलिस मुख्यालय भोपाल के निर्देशन पर प्रदेश में ऑपरेशन मुस्कान प्रारंभ किया जाकर गुमशुदा नाबालिग
बालक-बालिकाओं की दस्तयाबी की कार्यवाही प्रभावी तौर पर की जा रही है। पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक एवं
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुकेश कुमार वैश्य के निर्देशन में ऑपरेशन मुस्कान के तहत पुलिस थाना पपौंध द्वारा
15 वर्षीय नाबालिका को गुजरात के मोरबी बांकानेर से दस्तयाब किये जाने में शहडोल पुलिस ने उल्लेखनीय
सफलता प्राप्त की है। थाना पपौंध क्षेत्रांतर्गत 03 जनवरी को थाना में फरियादिया द्वारा रिपोर्ट लिखाई कि उसकी 15
वर्षीय नाबालिका जो कक्षा 10वीं में पढ़ती है, 02 जनवरी को सुबह करीबन 10:30 बजे परीक्षा देने स्कूल जाने को
कहकर घर से निकली थी, जो परीक्षा देकर घर वापस नहीं आई। जिस पर परिवारजनों द्वारा मोहल्ला व आस-पड़ोस
तथा रिश्तेदारी में पता तलाश किया गया, लेकिन लडक़ी की कही कोई पता नहीं चला। तब शंका जाहिर हुई कि कोई
अज्ञात व्यक्ति द्वारा लडक़ी को बहला-फुसलाकर कहीं ले गया है। फरियादिया कि रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपी के
विरूद्ध धारा 363 ता.हि. का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। प्रकरण की गंभीरता को दृष्टिगत रखते
हुए अनुविभागीय अधिकारी एसडोओपी ब्यौहारी के निर्देशन में त्वरित कार्यवाही करते हुए अपहृता को जिला मोरवी
(गुजरात) के थाना बाकानेर क्षेत्र से सकुशल दस्तयाब कर थाना पपौंध लाकर पूछतांछ एवं काउंसिलिंग उपरांत उसके
परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया। अपहृता की दस्तयाबी में रविप्रकाश कोल (एसडीओपी ब्यौहारी), निरीक्षक जे.पी.
शर्मा (थाना प्रभारी पपौंध), सहायक उप निरीक्षक गुलाब सिंह, अमित दीक्षित (प्रभारी सायबर सेल), प्रधान आरक्षक
नरेन्द्र उपाध्याय, अनिल शर्मा, आरक्षक नबी हुसैन खान एवं महिला आरक्षक गीता आर्मो की उल्लेखनीय भूमिका
रही है। इसी प्रकार थाना सिंहपुर में फरियादिया द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी कि उसका 15 वर्षीय पुत्र 02 जनवरी
की शाम से अपने घर में नहीं आया है। सूचना पर सिंहपुर पुलिस द्वारा धारा 363 के अंतर्गत प्रकरण पंजीबद्ध किया
गया था। सिंहपुर पुलिस द्वारा उक्त गुमशुदा बालक को 22 जनवरी को दस्तयाब कर उसके माता-पिता को पुन:
सुपुर्द करते हुए उनकी मुस्कान वापस दिलाई गई है। गुमशुदा की तलाश कर उसे दस्तयाब करने में थाना प्रभारी
सिंहपुर एम.पी.अहिरवार के नेतृत्व में उप निरीक्षक शोभा नामदेव एवं सहायक उप निरीक्षक राजेन्द्र तिवारी की
भूमिका सराहनीय रही। इसी प्रकार थाना जयसिंहनगर पुलिस ने 23 जनवरी को अपहृता बालिका को दस्तयाब कर
परिजनों को किया सुपुर्द। उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी जयसिंहनगर की नेतृत्व में सहायक उप निरीक्षक इंद्रभान,
आरक्षक अर्जुन, धीरसाह एवं तुलसी की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published.