PM ग्रामीण आवास योजना के अन्तर्गत डिजीटल गृह प्रवेशम् कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने किया लाभान्वित हितग्राहियों से संवाद

राकेश सिंह
शहडोल । कलेक्टर डॉ. सतेन्द्र सिंह एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री पार्थ जायसवाल एवं जिले के प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना से लाभान्वित हितग्राहियों की उपस्थिति में  कलेक्ट्रेट के एनआईसी में वीडियों कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा किये गये संवाद एवं सम्बोधन में भाग लिया। पीएम ग्रामीण आवास योजना के लाभान्वितों से संवाद कार्यक्रम में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने  केन्द्र सरकार द्वारा  पोषित  इस जनहितकारी योजना से लाभान्वित जिला धार के तहसील सरदारपुर के श्री गुलाब सिंह, जिला सिंगरौली (बैढ़न) के श्री प्यारेलाल एवं जिला ग्वालियर के श्री नरेन्द्र नामदेव से चर्चा की। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस कोरोना काल में मध्यप्रदेश में 1 लाख 75 हजार प्रधानमंत्री आवास बनाकर हितग्राहियों को सौंप कर उन्हें एक साथ गृह प्रवेश कराना देश एवं प्रदेश के लिये गौरव का क्षण है।

उन्होने कहा कि आवास निर्माण में जहां 125 दिन की समय-सीमा निर्धारित की गई थी, कोरोना काल में बाहर से आये प्रवासी मजदूरों के मेहनत से ये घर  40 से 60 दिनो मे ही पूर्ण कर लिये गए। प्रधानमंत्री ने कहा कि पीएम ग्रामीण आवास जहां बेघरो के लिये पक्की छत दे रहा है वहीं उनके  परिवार एवं बच्चों के भविष्य के निर्माण की बुनियाद भी पक्के मकान की तरह मजबूत  होगी। हितग्राहियो केा प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास के साथ-साथ शासन की विभिन्न योजनाएं शौचालय, उज्जवला गैस योजना, सौभाग्यवती बिजली योजना, एलईडी उजाला तथा पानी के लिये नल कनेक्षन का लाभ भी एक साथ मिलेगा । उन्होने कहा कि पीएम ग्रामीण आवास योजना गरीब के घर में जहां आत्मविश्वास जागृत करेगा वहीं बच्चों की शिक्षा स्वास्थ्य तथा स्वच्छ वातावरण  के साथ-साथ बहूआयामीे विकास करेगा।

प्रधानमंत्री ने अपने उद्बोधन में कहा कि देश के विकास के लिये हर गरीब को शासन की विभिन्न जन हितकारी योजनाओं को लाभ मिलना आवश्यक है तभी देश  विकसित एवं संबृद्ध होगा।उन्होने कहा कि  जब गरीब आगे बढ़ेगा तब देश भी आगे बढ़ेगा। प्रधानमंत्री ने  सम्बोधन करते हुये कहा कि देश के 6 लाख ग्रामों में ऑप्टिकल फाईबर योजना के अन्तर्गत इन्टरनेट की सुविधा प्रदान करना है जिससे सभी ग्रामवासी आधुनिक डिजीटल सुविधाओं से जुड़ कर आधुनिक गतिविधियों की जानकारी प्राप्त कर सके एवं विकास की मुख्य धारा में जुड़ सकें और प्रधानमंत्री ने कोरेाना से बचने के लिये दो गज की दूरी  के साथ-साथ बाहर निकलते वक्त मास्क लगाने का भी संदेश दिया। उन्होने कहा कि दो गज की दूरी स्वास्थ्य के लिये जरूरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *