वेंकटनगर चौकी पुलिस ने अंतर्राज्यीय जुआ फड पर की दिखावे की कार्यवाही

3 जुआरी पकडकर कर प्रभारी ने कर ली खानापूर्ति
चौकी वेंकटनगर अंतर्गत दो माह से चल रहा था अंतर्राज्यीय जुआ
2100 के साथ 3 जुआरी, 3 बाइक पकडकर लौट आई पुलिस

 वेंकटनगर के जंगल में बीते दो माहो से चल रहे जुआ के फड पर चौकी प्रभारी और उनकी टीम पर शुक्रवार की शाम 5 बजे छापामारी करते हुए, 3 जुआरी को फकडने में सफलता प्राप्त की है, दर्जनों की संख्या में खेल रहे जुआरियों में लीड ्ररोल निभाने वाले लालू यादव और बब्बू भागने में कामयाब हो गये, कुलमिलाकर 3 जुआरी और 2100 रूपए नगद लेकर कार्यवाही में इतिश्री कर ली।

अनूपपुर। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ की सीमा की रक्षा में रखने चौकी वेंकटनगर के प्रभारी और जवान अब धंधा करने लगे है, जुआ को संरक्षरण देने के बाद कही रेत की गाडियों को पार कराने के साथ अब नाम मात्र की कार्यवाही भी दिखावे के लिए करते नजर आते है, जिले के प्रतिष्ठित खबर राज एक्सप्रेस ने अपने 11 फरवरी के अंक में ‘वेंकटनगर में अंतर्राज्जीय जुआ फड का संचालनÓ नामक शीर्ष से प्रकाशित किया था, जिसके बाद चौकी प्रभारी मामले को निपटाने के लिए महज तीन लोगों पर कार्यवाही करते हुए अंतर्राज्जीय जुआ फड को दबाने का प्रयास कर दिये। पकडने गई टीम के द्वारा न तो कोई प्लान था और न ही कोई क्रियाकलाप, जिसके कारण अन्य जुआरी भागने में नाकाम रहे।
3 जुआरी 3 बाइक धराए


शुक्रवार को चौकी वेेंकटनगर की टीम के द्वारा गढिया टोला के जंगल में जुआ खेल रहे जुआरियों को पकडने गई थी, जहां रजन पिता ताला ङ्क्षसह गोड उम्र 28 वर्ष निवासी कदमसरा छिरहाटोला, प्रशांत राय पिता रेवा राय उम्र 32 वर्ष निवासी मरवाही चिचगोहरा, सचिन पिता तोतेराम यादव उम्र 30 वर्ष निवासी वेंकटनगर के साथ तीन बाइक जिसमें एक बाइक सचिव यादव उर्फ लालू यादव की है।
थाने तक पहुंचे नही जुआरी
सूत्रो से मिली जानकारी के अनुसार चौकी प्रभारी के.एन. बंजारे और उनकी टीम के द्वारा जिस जुआ फड पर छापामार कार्यवाही की गई थी, वहां से सभी जुआरी उनके पहुंचते ही फरार हो गये थे, महज दिखावे और संरक्षण के लिए तीन पर कागजों में कार्यवाही दिखाते हुए मामले को दर्ज किया गया और सिर्फ तीन वाहनों को चौकी तक लाया गया। हांलाकि मौके में जमानत देने का अधिकार है, लेकिन यह पहला चौकी होगा जहां जुआरियों को थाने तक नही लाया गया और जमानत दे दिया गया।
इसने लिया जमानत
अंतर्राज्जीय जुआ फड का संचालन कर्ता सचिन यादव उर्फ लालू यादव प्रतिदिन लाखों रूपए का नाल वसूली करता था, पुलिस की संरक्षण के साथ लालू के बडे पिता का भी संरक्षण चौकी में साफ दिखाई दी, लालू के बडे पिता जी हरिशचंद यादव जुआरियां का मुचलका जमानत लेने चौकी पहुंच गये और सभी का जमानत कर चले गये, लेकिन बात तो यह है कि व्यक्ति नही सिर्फ गाडिया ही चौकी में मौजूद रही।
यह रहे कार्यवाही में
अंतर्राज्यीय जुए फड में की गई कार्यवाही चौकी प्रभारी के.एल. बंजारे, प्रधान आरक्षक मन्नू ङ्क्षसह, एसएफ सैनिक वीर बहादुर, संग्राम सिंह, विकास कुमार ने तत्परता दिखाते हुए महज 2100 नगद और 3 बाइक के साथ 3 व्यक्तियों पर दिखावे की कार्यवाही में सफलता प्राप्त की है।
हर दिन लगता था लाखो का दांव
वेंकटनगर में जिस अंतर्राज्यीय जुए फड का संचालन हो रहा है, उसमें हर दिन लाखो रुपए का दांव खिलाडियों द्वारा लगाया जा रहा, जिसमें कई सारे युवा वर्ग इसमे अपनी किस्मत आजमा रहे है, जिसके कारण कई घर बर्बाद हो रहे है। यह फड हर दिन के लगभग 3 बजे से शुरू होकर देर रात तक चलता है। दो प्रदेशों से पहुंचने वाले जुआरी यहां आकर ग्रामीणों के साथ अन्य छोटे जुआरियों को निशाना बनाकर चले जाते है, बडे-बडे खिलाडियों के आगे लोग समझ भी पाते है और बाकायादा संचालक के द्वारा सभी से नाल लेकर दांव खिलाया जा रहा है।
इनका कहना है
मैं फिर से इस पूरे मामले को देखता हूं, कहीं भी जुआ का संचालन नही होगा, कार्यवाहियां लगातार जारी रहेगी।
अभिषेक राजन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनूपपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed