बिजली संकट को लेकर लामबंद हुए ग्रामीण

दिया शासन-प्रशासन को 7 दिन का अल्टीमेटम

शहडोल। मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण केन्द्र जयसिंहनगर अंतर्गत ग्राम कनाड़ी खुर्द से लगे 20 से 25 ग्रामों में विगत 4 वर्षाे से लगातार हो रही बिजली कटौती, लो वोल्टेज से बिजली उपभोक्ता बुरी तरह प्रभावित हैं, समस्या के समाधान के लिए कई बार बिजली विभाग के अधिकारियों को बताया गया, लेकिन कोई हल नहीं निकला और बिजली संकट नासूर बनती जा रही है। विगत 3 वर्ष पूर्व मुख्यमंत्री को क्षेत्र के बिजली उपभोक्ता व किसानों द्वारा ग्राम कनाड़ी खुर्द में विद्युत सब स्टेशन स्थापित कराने की मांग किया गया था, और मुख्यमंत्री द्वारा घोषणा कर तुरंत स्वीकृति प्रदान कर दी गई थी, लेकिन अभी तक विद्युत सब स्टेशन का कार्य प्रारंभ नहीं हो सका और बिजली का संकट बना हुआ है। वर्तमान में हालात इतने खराब है कि लोगों को पीने के पानी के लाले पड़े हैं, फसलें पूरी तरह सूख चुकी हैं, किसान कर्जदार हैं, अब किसान सूखी हुई फसल से कर्ज अदायगी कैसे करेगा। किसान, बिजली उपभोक्ता अब आत्महत्या करने के लिए मजबूर है।
यह रखी मांगे
कलेक्ट व अन्य अधिकारियों के नाम सौंपे गये ज्ञापन में उल्लेख किया गया है कि ग्राम कनाड़ी खुर्द में स्वीकृत विद्युत सब स्टेशन का निर्माण प्रारंभ करना, ग्राम मसीरा, पसौड़, दातारी आदि ग्रामों में वर्तमान स्थिति में मानपुर से बिजली मिल रही है, उसको ग्राम कनाड़ी खुद सब स्टेशन से जोडऩा, ग्राम कनाड़ी कला, गिरूई बड़ी, बांसा आदि ग्रामों में विगत 3 माह से जले हुए ट्रांसफार्मरों को बदलना। पूरे क्षेत्र में ठेकेदारों द्वारा एलटी लाईन के कंडक्टर वायर बदलकर लगाए गए लीड जो अत्यंत घटिया किस्म के हैं, व पूरी तरह जल चुके हैं को बदलना।
7 दिन का अल्टीमेटम
ग्रामीणों ने ज्ञापन में उल्लेख किया है कि यह मांगे 7 दिवस के अंदर पूरी की जाए, यदि मांगों पर तुरंत अमल नहीं हुआ तो, समस्त क्षेत्रवासी धरना प्रदर्शन, आमरण अनशन, चक्काजाम करने के लिए मजबूर होंगे, जिसके लिए बिजली विभाग व शासन-प्रशासन जिम्मेदार होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *