सीमांकन के प्रकरणों में अंतिम दिन का इंतजार किया, तो पड़ेगा भारी – कलेक्टर श्री मिश्रा, सीमांकन कार्य में लापरवाही और कार्यालय में पंजी संधारित ना करने पर नायब तहसीलदार बिलहरी को थमाया शोकॉज, व्यवस्था को करें ठीक, कार्यप्रणाली में लायें सुधार

सीमांकन के प्रकरणों में अंतिम दिन का इंतजार किया, तो पड़ेगा भारी – कलेक्टर श्री मिश्रा, सीमांकन कार्य में लापरवाही और कार्यालय में पंजी संधारित ना करने पर नायब तहसीलदार बिलहरी को थमाया शोकॉज, व्यवस्था को करें ठीक, कार्यप्रणाली में लायें सुधार

कटनी ॥  बुधवार को कलेक्टर प्रियंक मिश्रा विजिट पर निकले। इस दौरान उन्होने बिलहरी नायब तहसीलदार कार्यालय और बाकल नायब तहसीलदार कार्यालय का निरीक्षण किया। दोनों ही स्थानों पर सीमांकन के आवेदनों का प्रॉपर डिस्पोजल ना करने पर कलेक्टर श्री मिश्रा ने संबंधित नायब तहसीलदारों को स्पष्ट लहजे में समझाईश दी। उन्होने कहा कि सिर्फ जी सर जी सर करने से काम नहीं चलेगा। ध्यान रखें, सीमांकन एक सेवा है, जो अब लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत आ चुकी है। निर्धारित समय सीमा में सीमांकन का कार्य करायें।इतना ही नहीं तल्ख लहजे में स्पष्ट आदेश देते हुये कलेक्टर ने निर्देश दिये कि आप लोगों के प्रकरणों को देखकर एैसा प्रतीत होता है कि आप प्रकरणों के निराकरण के लिये अंतिम तिथि का इंतजार करते हैं। यह व्यवस्था ठीक नहीं है, सुधरें और कार्यप्रणाली में सुधार लायें।अपने दौरे की शुरुआत में बिलहरी नायब तहसीलदार कार्यालय पहुंचे कलेक्टर श्री मिश्रा ने सर्वप्रथम सीमांकन की शिकायतों, सीमांकन के प्रकरणों और सीमांकन के प्रकरणों को संधारित करने वाली पंजी का अवलोकन कराने के निर्देश दिये। सीमांकन के प्रकरणों में सीमांकन कराने के लिये अंतिम तिथि का उल्लेख मिला। कार्यालय में किसी भी तरह की पंजी संधारित नहीं पाई गई। इस पर कार्यवाही करते हुये कलेक्टर ने नायब तहसीलदार बिलहरी को कारण बताओ सूचना पत्र जारी करने के आदेश दिये। उन्होने चेताते हुये कहा कि कार्यालय प्रबंधन सीखें और पंजियों का संधारण करें। आरसीएमएस पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों का निराकरण करें। सीमांकन के आवेदन लंबित ना रखें।बाकल नायब तहसीलदार कार्यालय में भी सीमांकन के आवेदनों की जानकारी कलेक्टर ने ली। इस दौरान नायब तहसीलदार द्वारा बताया गया कि 59 आवेदन अभी भी लंबित हैं। लेकिन सीमांकन के लिये दी जा रही तिथियों पर कलेक्टर श्री मिश्रा ने नाराजगी जाहिर की। उन्होने कहा कि आप लोगों के कारण पोर्टल पर जिले की पेंडेन्सी बढ़ती है। सुनिश्चित करें कि निर्धारित समय सीमा पर सीमांकन के समस्त प्रकरणों का निराकरण हो।बाकल में नवीन नायब तहसील कार्यालय भवन का निरीक्षण भी कलेक्टर ने किया। इस दौरान उन्होने भवन को हैण्डओव्हर लेने के पहले समस्त कार्य करा लेने के निर्देश अधिकारियों को दिये। पीआईयू के अधिकारियों और ठेकेदार को स्पष्ट तौर पर निर्देशित करते हुये श्री मिश्रा ने कहा कि भवन के निर्माण कार्य पूर्ण करने में 15 की जगह 30 दिन लें, लेकिन जैसे हम अपने घर को फाईनल टच देते हैं, उसी गुणवत्ता का कार्य करें।बिलहरी नायब तहसीलदार कार्यालय के भ्रमण के दौरान एसडीएम कटनी बलबीर रमन और बाकल नायब तहसीलदार कार्यालय के निरीक्षण के दौरान एसडीएम बहोरीबंद रोहित सिसोनिया भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *