घरों में घुसा पानी , नाले हुए लबालब नगर निगम के दावे साबित हुए खोखले

शशिकांत कुशवाहा
सिंगरौली । उर्जाधानी सिंगरौली में आज जमकर बरसे बदरा । तेज बारिश से एक ओर जहाँ शहर के नाले उफान पर आ गये , वहीं अधिकतर गली मोहल्लों में जल भराव हो गया जिससे की लोगों के घरों में गंदा पानी घुस गया आज की हुई तेज बारिश ने जहां लोगो को गर्मी से राहत दिलाई वहीं दूसरी तरफ जलभराव होने के कारण खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है इस बारिश के कारण नगर निगम के दावे खोखले साबित हो गए हैं.
नगर निगम के दावे खोखले
भारी बारिश के कारण जहां गली मोहल्ले में जलभराव की स्थिति के कारण आवागमन अवरुद्ध हुआ वहीं दूसरी तरफ करोड़ों रुपए स्वच्छता के नाम पर खर्च करने वाले नगर निगम की पोल भी खुल गई है आपको बताते चलें कि हर साल नगर निगम करोड़ों रुपए स्वच्छता पर खर्च करता आया है वही करोड़ों रुपए खर्च करने के बाद भी जलभराव जैसी समस्या समझ से परे है क्योंकि नालियों की साफ-सफाई को लेकर बकायदा टेंडर जारी है एवं नगर निगम के द्वारा बताया गया कि स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जा रहा बावजूद इसके जो नजारा सामने आया है वह नगर निगम के दावों की पोल खोलने के लिए काफी है ।
आदर्श वार्ड में कई गलियों में भरा पानी
जिला मुख्यालय के करीब नगर निगम का वार्ड क्रमांक 40 जोकि आदर्श वार्ड कह लाता है यहां पर कई मोहल्ले की गलियां आज जल से सराबोर है कारण है नालों की सफाई ना होना कई वर्षों से नालों की सफाई नहीं हुई एवं नालों पर अतिक्रमण तक कर लिया गया है जिससे कि पानी निकासी की समस्या पैदा हो गई है बरहाल नगर निगम के जिम्मेदार अधिकारी अभी मौन है ।
मुख्य जगहों पर साफ सफाई अभियान सीमित
नगर निगम के स्वच्छता को लेकर चलाए जा रहे अभियान एवं मोहल्ले की नालियों की सफाई की वास्तविकता बताए तो वह कुछ इस प्रकार से है कि नगर निगम के आदर्श वार्ड में मुख्य जगहों पर ही नगर निगम का सफाई अभियान चलाया जाता है और बकायदा जिम्मेदार अधिकारी बताते हैं कि हमने पूरे वार्ड में साफ सफाई करवाई है वहीं वार्ड वासी बताते हैं कि नगर निगम के साफ सफाई के कर्मचारी कुछ विशेष जगहों तक साफ सफाई करते हैं और जब उन कर्मचारियों से आगे तक की सफाई के लिए कहा जाता है तो बकायदा उन कर्मचारियों का जवाब होता है कि टेंडर यही तक का है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *