आत्मनिर्भर भारत ऐप प्रतियोगिता का विजेता हुआ घोषित

विक्रांत तिवारी
भोपाल । चीनी ऐप tiktok को सरकार द्वारा बैन किए जाने के बाद आए Chingari App काफी हिट हो गया था. अब इस ऐप को सरकार ने ऐप इनोवेशन चैलेंज प्रतियोगिता की सोशल मीडिया कैटेगिरी में पहला स्थान दिया है. इस ऐप के डेवलपर्स को सरकार द्वारा 20 लाख रुपये मिलेंगे. केंद्र सरकार ने AatmaNirbhar Bharat App Innovate Challenge के तहत भारतीय उद्यमियों द्वारा विकसित की गई 24 बेहतर मोबाइल ऐप के विजेताओं की शुक्रवार को घोषणा की है.

डेवलपर्स को बढ़ावा देना मकसद
इस ऐप इनोवेशन चैलेंज का मकसद भारतीय डेवलपर्स को बढ़ावा देना और उनसे अलग-अलग फीचर्स वाले ऐप्स तैयार करवाना था. खास बात यह है कि चिंगारी ऐप इस चैलेंज के टॉप-3 में पहुंच गया है. TikTok बैन होने के बाद वैसे फीचर्स देने वाला देसी ऐप टॉप चार्ट्स में पहुंच गया था और तेजी से वायरल हो रहा है.

माईगव पर शुरू हुई थी प्रतियोगिता
59 चाइनीज ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल और आत्मनिर्भर भारत की ओर कदम बढ़ाते हुए 4 जुलाई को आत्मनिर्भर भारत इनोवेशन चैलेंज  लॉन्च किया था. विदेशी ऐप्स पर निर्भरता कम करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस प्रतियोगिता की घोषणा की थी. इसे सरकार के इनोवेटिव पोर्टल ‘MyGov’ पर शुरू किया गया था. आठ श्रेणियों में कुल 2,353 प्रविष्टियां प्राप्त हुई थीं.

इतनी मिली प्रविष्टियां
इनमें निजी व्यक्तियों से 1,496 प्रविष्टियां और संगठनों तथा कंपनियों से लगभग 857 प्रविष्टियां शामिल हैं. व्यक्तियों से प्राप्त होने वालों में, लगभग 788 ऐप उपयोग के लिए तैयार हैं और शेष 708 अभी विकास की प्रक्रिया में हैं. जमा किये गये ऐप में 380 अंडर बिजनेस, 286 हेल्थ एंड वेलनेस, 339 ई-लर्निंग, 414 सोशल नेटवर्किंग, 136 गेम्स, 238 ऑफिस व घर से काम, 75 न्यूज और 96 अंडर एंटरटेनमेंट कैटेगरी के हैं. अन्य श्रेणी के तहत लगभग 389 ऐप हैं. आधिकारिक बयान में कहा गया कि इनमें से लगभग 100 ऐप के एक लाख से अधिक डाउनलोड हैं.

MyGov ने एक बयान में कहा कि इस प्रतियोगिता के लिए नौ श्रेणियों में 6,940 ऐप के आवेदन मिले. इसमें से 24 ऐप को पुरस्कार का विजेता घोषित किया गया. जबकि 20 अन्य ऐप को विशेष प्रोत्साहन वाली ऐप के तौर पर मान्यता दी गई है.

टॉप पर रहे ये ऐप
चिंगारी ऐप को सोशल मीडिया श्रेणी में, कैप्शन प्लस को मनोरंजन श्रेणी में, फर्जी समाचारों की जांच करने वाली लॉजिकली को समाचार श्रेणी में, हिटविकेट को गेम्स, स्टेपसेटगो को स्वास्थ्य, डिस्पर्ज को ई-लर्निंग, जोहो इनवॉयस, बुक्स एण्ड एक्सपेंस को कारोबार श्रेणी, जोहो वर्कप्लस और क्लिक को कार्यालयी श्रेणी में एवं मैपमाईइंडिया को अन्य श्रेणी में विजेता चुना गया.

2.5 करोड़ डाउनलोड
शॉर्ट विडियो मेकिंग और शेयरिंग ऐप चिंगारी को अब तक 2.5 करोड़ से ज्यादा यूजर्स डाउनलोड कर चुके हैं. इसे रिकॉर्ड टाइम में इतनी ज्यादा बार डाउनलोड किया गया. ऐप का लाइट साइज और यूजर फ्रेंडली इंटरफेस यूजर्स को पसंद आ रहा है. इसके अलावा यूजर्स इंटरेक्शन के लिए इसका स्पेस काफी इंगेजिंग माना गया है. ऐप के सीईओ और को-फाउंडर सुमित घोष ने बताया कि ऐप को भारतीय कस्टमर्स के लिए खास तौर से डिजाइन किया गया है.

इतने मिले हैं रुपये
प्रत्येक श्रेणी के विजेता को 20 लाख रुपये का पुरुस्कार दिया गया. जबकि दूसरे और तीसरे स्थान पर रहने वाली ऐप को क्रमश: 15 लाख रुपये और 10 लाख रुपये का पुरस्कार दिया जायेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *